खतरे में रेल: स्टेशनों, ट्रेनों में केमिकल अटैक का खतरा, सुरक्षा एजेंसियां सतर्क

बरेली। रेलवे स्टेशन और ट्रेनों में आतंकी किसी भी वक्त केमिकल अटैक कर सकते हैं। इंटेलीजेंस से यह इनपुट मिलने के बाद रेलवे हरकत में आ गया है। रेलवे के मुख्य सुरक्षा आयुक्त ने सभी ट्रनों और रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम करने को कहा है।

मुख्य सुरक्षा आयुक्त कार्यालय से रेल अफसरों को भेजे गए पत्र में कहा गया है कि आईबी और सुरक्षा एजेंसियों से इनपुट मिला है कि आतंकी किसी भी वक्त केमिकल अटैक कर सकते हैं। आतंकी खाना, दवा, पैक्ड फूड, साफ सफाई के सामान और बागवानी में इस्तेमाल होने वाले सामान में खतरनाक केमिकल मिलाकर कई लोगों को शिकार बना सकते हैं। आईबी से मिले इनपुट में कहा गया है कि आतंकी रेलवे स्टेशन, ट्रेन, बस, प्लेन और सार्वजनिक स्थानों को निशाना बना सकते हैं। ऐसे स्थानों पर जहरीरी गैस या किसी दूसरे केमिकल के जरिए हमला किया जा सकता है। इसलिए अफसर पर्याप्त सतर्कता बरतें।

रेलवे स्टेशन और ट्रेनों पर सुरक्षा घेरा कसने के आदेश

मुख्य सुरक्षा आयुक्त कार्यालय से पत्र जारी होने के बाद मुरादाबाद के वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त मुरादाबाद और हरिद्वार के एसपी रेलवे को सभी ट्रेनों और रेलवे स्टेशनों की सुरक्षा के लिए पर्याप्त इंतजाम करने के आदेश दिए हैं। रेलवे बल के अफसरों से स्थानीय पुलिस, इंटेलीजेंस और प्रशासन के साथ तालमेल बनाकर सुरक्षा घेरा कड़ा करने को कहा है।

बरेली के स्टेशनों पर खतरा ही खतरा
बरेली के किसी भी रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा के इंतजाम नहीं है। जंक्शन, सिटी स्टेशन और रेलवे स्टेशन पर लोग कहीं से भी आ जा सकते हैं। स्टेशनों पर लगे मेटल डिटेक्टर खराब हैं। यहां कभी भी किसी यात्री और सामान की चेकिंग नहीं की जाती। ठंड से बचने के लिए तमाम लोग जंक्शन पर स्टेशन पर पनाह लेते हैं। ऐसे में सुरक्षा मानकों को कड़ाई से लागू करना रेलवे के लिए टेड़ी खीर साबित होगा।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani