10 किलो सोना लूट ले गए ‘वर्दी’ वाले गुंडे

साहिबाबाद
रेलवे रोड कट के पास रविवार देर रात कार सवार चार बदमाशों ने मुंबई की एक जूलरी कंपनी के कर्मचारी को अगवा कर 10 किलो सोना लूट लिया। इसकी कीमत करीब 3.50 करोड़ रुपये के आसपास है। बदमाश पुलिस की वर्दी में आए थे। लूटपाट के बाद बदमाश कर्मचारी को वजीराबाद रोड पर छोड़कर फरार हो गए। पीड़ित कर्मचारी अपने साथियों के साथ कार में मेरठ से दिल्ली लौट रहा था। शिकायत मिलने के बाद पुलिस की चार टीमें बनाई गई हैं, जो बदमाशों की तलाश में जुटी हैं।

ऐसे हुई लूट
मुंबई में राकेश यूनियन चेंस ऐंड जूलरी के नाम से कंपनी चलाते हैं। शनिवार को उनकी कंपनी के दो कर्मचारी रोहित जैन और किशन दिल्ली के लिए निकले थे। उनके पास करीब 11 किलो सोने की विभिन्न डिजाइन की चेनें मौजूद थीं। रविवार सुबह करीब 8:45 बजे दोनों दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचे और यहां से होटल गए। दोपहर करीब 2 बजे दोनों एक लोकल सुनार दीपक और उसके ड्राइवर रामाशीष के साथ मेरठ के लिए निकले। वहां के जूलरों को सैंपल दिखाने के बाद रात 8 बजे सभी वापस दिल्ली के लिए निकले। इस दौरान मेरठ में चारों ने एक ढाबे पर खाना खाया। देर रात करीब 11:30 बजे जैसे ही इनकी केयूवी-100 कार जीटी रोड स्थित रेलवे रोड कट के पास पहुंची। इस दौरान पीछे से आई एक कार ने कार को ओवरटेक कर रोक लिया।

कार से दिल्ली पुलिस की वर्दी में उतरे दो बदमाश उतरे। एक ने उनके ड्राइवर के साथ मारपीट शुरू कर दी जबकि दूसरे बदमाश ने चेकिंग के नाम पर रोहित से मारपीट कर उन्हें कार से उतार लिया। रोहित के पास ही जूलरी से भरे दोनों बैग थे। जब किशन भी कार से निकलने लगे तो दोनों शख्स ने किशन को धक्का देकर जमीन पर गिरा दिया। इसके बाद दोनों रोहित को अपनी कार में बैठा कर राजेंद्र नगर ले गए। रोहित के अनुसार दो बदमाश पुलिस की वर्दी में थे, जबकि कार में बैठे बाकी दो बदमाश सादे कपड़ों में थे। यहां एक सर्विस रोड पर बदमाशों ने कार खड़ी की और उनसे दोनों बैग लूट लिए। जब उन्होंने विरोध किया तो उन्होंने एनकाउंटर करने का डर दिखाया और कार से उतार कर फरार हो गए। हालांकि किसी के पास कोई हथियार नहीं दिखा था। बदमाशों की कार का पीछा करते-करते उनके साथी मौके पर पहुंचे और 100 नंबर पर पुलिस को लूट की सूचना दी।

पहनी हुई जूलरी और कैश नहीं लूटा
पुलिस जांच में पता चला है कि बदमाशों ने रोहित से सिर्फ जूलरी वाले बैग लूटे जबकि पीड़ितों से न तो मोबाइल लूटे और न ही उनकी पहनी हुई जूलरी और पर्स पर हाथ लगाया। चारों के पास करीब 3 लाख की जूलरी और 40 हजार रुपये कैश था।

10 मिनट में लूटकर हो गए फरार
बदमाशों ने रोहित को अगवा कर करीब 4.2 किमी तक कार में घुमाया। इस दौरान बदमाशों की कार एएसपी ऑफिस और दो पुलिस चौकियों के सामने से गुजरी, लेकिन पुलिस को इसकी भनक नहीं लगी। बाद में वजीराबाद रोड से होते हुए बदमाश सिकंदर पुर गांव के बाद लूटने के बाद सर्विस रोड पर छोड़कर फरार हो गए। मेरठ से साहिबाबाद थाने तक करीब 24 चौकी और 4 थाने पड़ते हैं। इन थाने या चौकियों पर बैरिकेडिंग लगा कर कोई चेकिंग नहीं की हो रही थी। यही वजह है कि बदमाश बेखौफ कार का पीछा करते रहे।

रेकी के बाद दिया गया वारदात को अंजाम
पुलिस के अनुसार बदमाशों ने पूरी घटना की रेकी की थी। जांच में पता चला है कि बदमाश इनकी कार का दिल्ली या मेरठ से ही पीछा कर रहे थे। पूरे रास्ते में वारदात को अंजाम नहीं दे सके। रेलवे रोड के पास मौका देखकर बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया।

दिनभर पीड़ित को पुलिस ने किया रखा नजरबंद
देर रात से पीड़ित से पुलिस ने पूछताछ शुरू की, जो कि सोमवार शाम तक जारी रही। सोमवार शाम तक भी पुलिस ने पीड़ितों को मीडिया के सामने पेश नहीं किया। मीडिया के विरोध करने पर पुलिस अधिकारियों ने घटना की जानकारी दी।

टाइमलाइन
8:45 बजे मुंबई की जूलरी कंपनी के दो कर्मचारी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर उतरे
02:00 बजे दोनों दिल्ली के दो अन्य लोगों के साथ मेरठ के लिए निकले

08:00 बजे रात मेरठ में माल बेच कर दिल्ली के लिए निकले
10:47 बजे जीटी रोड स्थित रेलवे रोड कर पर बदमाशों ने ओवरटेक किया
10:50 बजे बदमाशों ने रोहित जैन को बैग के साथ कार में अगवा किया
11:04 बजे वजीराबाद रोड स्थित सिकंदरपुर गांव के पास छोड़ा
11:12 बजे 100 नंबर पर पुलिस को सूचना दी गई
11:21 बजे स्थानीय पुलिस बाद में अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे

चारों पीड़ितों से की गई अलग-अलग पूछताछ
पुलिस घटना को संदिग्ध मान रही थी। इस दौरान कार सवार चारों पीड़ितों से अलग-अलग पूछताछ कर उनकी विडियोग्राफी की गई। चारों ने घटना को एक जैसा ही बताया। सूत्रों की मानें तो जांच में सही पाए जाने के बाद पुलिस लूट की धारा में रिपोर्ट दर्ज करने को तैयार हुई।

10 किलो से अधिक सोना लेकर चले थे
पुलिस के अनुसार पीड़ित 10 किलो से अधिक जूलरी लेकर दिल्ली आए और मेरठ गए थे। मेरठ में उन्होंने करीब एक किलो जूलरी बेच दी थी। पुलिस कंपनी के मालिक से पूछताछ कर साथ लाई गाई जूलरी की जांच कर रही है?

नए एसएसपी के सामने होगा खुलासा
पुलिस सूत्रों की मानें तो पुलिस ने देर शाम 4 संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया है। उनसे पूरी रिकवरी का दावा भी किया जा रहा है। मंगलवार को नए एसएसपी के चार्ज लेने की संभावना है। माना जा रहा है कि उनके चार्ज लेने के साथ ही इस केस का भी खुलासा किया जाएगा।

साहिबाबाद, इंदिरापुरम, सिहानी गेट और क्राइम ब्रांच की टीम बदमाशों की तलाश में जुटी है। पुलिस कई बिंदुओं पर काम कर रही है। जल्द ही बदमाशों की गिरफ्तारी के बाद घटना का खुलासा किया जाएगा।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani