अगर आप पत्नी का एटीएम कार्ड इस्तेमाल करते हैं तो हो जाएं सावधान

एटीएम से पैसे निकालने के लिए अपना डेबिट कार्ड किसी करीबी रिश्तेदार या दोस्त को देते हैं, तो यह आपको महंगा पड़ सकता है। ठीक उसी तरह जैसे मातृत्व अवकाश के दौरान बेंगलुरू की एक महिला के साथ हुआ है। बैंक का नियम साफतौर पर यह कहता है कि एटीएम कार्ड ट्रांसफर योग्य नहीं है। खाताधारक के अलावा इसका इस्तेमाल कोई और नहीं कर सकता।

जानिए क्या हुआ वंदना के सााथ

14 नवंबर 2013 को मराथाहाली की रहनेवाली वंदना ने अपना डेबिट कार्ड और पिन पति राजेश को देकर उससे 25 हज़ार रूपये स्थानीय एसबीआई एटीएम से निकालने को कहा। राजेश ने एटीएम जाकर कार्ड स्वाइप किया। मशीन से डिलिवरी की पर्ची भी निकल आई और अकाउंट से पैसा भी डेबिट हो चुका था। लेकिन, पैसा मशीन से बाहर नहीं आया। एसबीआई ने नॉन ट्रांसफरेबल नियम का हवाला देते हुए कहा कि खाताधारक खुद पैसा नहीं निकाल रहा था इसलिए पैसे पर उसका दावा नहीं बनता है। उसने दावे को खारिज कर दिया।

एटीएम से पैसे निकालने के लिए अपना डेबिट कार्ड किसी करीबी रिश्तेदार या दोस्त को देते हैं, तो यह आपको महंगा पड़ सकता है। ठीक उसी तरह जैसे मातृत्व अवकाश के दौरान बेंगलुरू की एक महिला के साथ हुआ है। बैंक का नियम साफतौर पर यह कहता है कि एटीएम कार्ड ट्रांसफर योग्य नहीं है। खाताधारक के अलावा इसका इस्तेमाल कोई और नहीं कर सकता।

जानिए क्या हुआ वंदना के सााथ

14 नवंबर 2013 को मराथाहाली की रहनेवाली वंदना ने अपना डेबिट कार्ड और पिन पति राजेश को देकर उससे 25 हज़ार रूपये स्थानीय एसबीआई एटीएम से निकालने को कहा। राजेश ने एटीएम जाकर कार्ड स्वाइप किया। मशीन से डिलिवरी की पर्ची भी निकल आई और अकाउंट से पैसा भी डेबिट हो चुका था। लेकिन, पैसा मशीन से बाहर नहीं आया। एसबीआई ने नॉन ट्रांसफरेबल नियम का हवाला देते हुए कहा कि खाताधारक खुद पैसा नहीं निकाल रहा था इसलिए पैसे पर उसका दावा नहीं बनता है। उसने दावे को खारिज कर दिया।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani