मोदी ने पुतिन को दिलाई अटल की याद, 7 घंटे की मुलाकात में 7 बार किया वाजपेयी का जिक्र

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के आमंत्रण पर पीएम मोदी सोमवार को रूस के सोचि शहर के दौरे पर गए थे. वहां उनकी पुतिन के साथ एक अनौपचारिक शिखर वार्ता हुई. इस दौरान पीएम मोदी ने पुतिन को अटल बिहारी वाजपेयी से उनकी मुलाकात की याद दिलाई.

काला सागर के तट पर बसे शहर सोचि में पीएम मोदी ने पुतिन से कहा, ‘साल 2000 में पदभार संभालने के बाद से आपका भारत के साथ अटूट रिश्ता रहा है. पहली बार रूस के राष्ट्रपति बनने के बाद आप भारत आए थे, उस समय अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री थे. उस दौरान आपने भारत को एक जीवंत लोकतंत्र बताया था. इसको लेकर भारत के लोग आज भी आपको याद करते हैं.’

मोदी ने पुतिन के साथ बातचीत में पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी का 7 बार जिक्र किया. मोदी ने काला सागर में बोटिंग की और कुल मिलाकर सात घंटे पुतिन के साथ रहे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार सुबह अपने अनौपचारिक दौरे पर रूस के सोचि पहुंचे थे और वहां के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मुलाकात की. पुतिन ने मोदी की गर्मजोशी से स्वागत किया. इसके बाद दोनों नेताओं ने नौका विहार भी किया.

पीएम मोदी ने पुतिन को राष्ट्रपति चुने जाने की बधाई भी दी. उन्होंने कहा, ‘मुझे फोन पर बधाई देने का अवसर मिला था, लेकिन आज मिलकर बधाई देने का सौभाग्य मिला. भारत के सवा सौ करोड़ देशवासियों की ओर से भी आपको बहुत-बहुत बधाई. साल 2000 में पदभार संभालने के बाद से आपका भारत के साथ अटूट रिश्ता रहा है.’

पीएम मोदी ने कहा कि भारत और रूस बहुत पुराने दोस्त हैं. इनका रिश्ता अटूट है. पीएम मोदी ने कहा, ‘राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन मेरे बेहद करीबी दोस्त भी हैं. सोचि में अनौपचारिक मुलाकात के लिए आमंत्रित करने के लिए राष्ट्रपति पुतिन का शुक्रिया.’

उन्होंने कहा कि भारत को शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) की स्थायी सदस्यता दिलाने में रूस ने अहम भूमिका दिलाई. हम इंटरनेशनल नॉर्थ-साउथ ट्रांसपोर्ट कॉरिडोर (INSTC) और ब्रिक्स (BRICS) के लिए मिलकर काम कर रहे हैं.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani