करीब 10 लाख लोगों के नाम सूर्य तक लेकर जाएगा पार्कर सोलर प्रोब मिशन

सूरज के करीब पहुंचने वाला पहला मिशन, अंतरिक्ष एजेंसी नासा का पार्कर सोलर प्रोब इस साल जुलाई में करीब 10 लाख लोगों के नाम वहां तक ले जाएगा। सात साल के अपने मिशन के दौरान यह सूर्य के वातावरण से 24 बार होकर गुजरेगा। आज से पहले कोई भी अंतरिक्षयान इस सितारे के इतने करीब नहीं पहुंचा है। अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स अप्लाइड फिजिक्स लैब में तैयार पार्कर सोलर प्रोब की प्रोजेक्ट साइंटिस्ट निकोला फॉक्स ने कहा कि पार्कर सोलर प्रोब सूरज के बारे में, हमारी समझ में क्रांति लाएगा। यह वह सितारा होगा जिसका इतने करीब से अध्ययन हो सकेगा।

फॉक्स ने बताया कि यह उचित है कि जैसे-जैसे यह मिशन अन्वेषण की उस चरम यात्रा पर पहुंच रहा है जिसका किसी भी मानव निर्मित वस्तु द्वारा पहली बार सामना किया जा रहा है। वह अंतरिक्ष यान उन कई लोगों के नाम भी साथ ले जाएगा जो इसको लेकर काफी उत्साहित हैं। मार्च में किसी सितारे तक पहुंचने वाले मानवता के पहले मिशन पर सूर्य तक जाने वाले अंतरिक्षयान के साथ अपने नाम भेजने के लिए लोगों को आमंत्रित किया गया था। साढे़ सात हफ्ते तक चली इस प्रक्रिया में कुल 11,37,202 नाम दर्ज हुए और उनकी पुष्टि हुई। इन लोगों के नाम एक मेमोरी कार्ड में डाले गए जिसे 18 मई को अंतरिक्षयान में लगाया गया। यह अंतरिक्षयान 31 जुलाई को उड़ान भरेगा।

यह मिशन यूगीन पार्कर के नाम पर रखा गया है जिन्होंने सौर हवाओं की मौजूदगी के बारे में पहली बार अनुमान लगाया था। यह नासा का पहला मिशन है जो किसी जीवित व्यक्ति के नाम पर है। पार्कर सोलर प्रोब सूरज के बाहरी वातावरण की खोज करेगा और सितारों की भौतिकी के बारे में उठ रहे दशकों पुराने सवालों के जवाब देने के लिए सूक्ष्म निरीक्षण करेगा।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani