राज्यपाल की गृह राज्य यात्रा पर 46 लाख खर्च, ओडिशा सरकार ने मांगी सफाई

ओडिशा के राज्यपाल गणेशी लाल के अपने गृह राज्य हरियाणा की यात्रा पर 46 लाख रुपये खर्च करने पर राज्य सरकार ने सफाई मांगी है. राज्य सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने इस बारे में हाल में गवर्नर ऑफिस को पत्र लिखा है.

सामान्य प्रशासन विभाग मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के पास ही है. विभाग द्वारा भेजे गए लेटर में इस बात पर सफाई मांगी गई है कि उन्होंने आखिर हरियाणा की यात्रा के लिए 46 लाख रुपये कैसे खर्च कर दिए. इस लेटर में दो बिलों का हवाला दिया गया है. पहला, दिल्ली से आने-जाने के लिए चार्टर्ड जेट विमान का खर्च और दूसरा दिल्ली से सिरसा हेलीकॉप्टर से आने-जाने का खर्च. यह यात्रा पिछले महीने की गई थी.

संघ से जुड़े रहे हैं राज्यपाल!

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपार्ट के अनुसार, इस लेटर में बताया गया है कि दिल्ली की जेट यात्रा पर 41.18 लाख रुपये और हेलीकॉप्टर से यात्रा पर 5 लाख रुपये खर्च हुए. गौरतलब है कि गणेशी लाल को इस साल मई में ही राष्ट्रपति ने ओडिशा का राज्यपाल नियुक्त किया है. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) से जुड़े रहे गणेशी लाल गणित के प्रोफेसर थे. वह हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष रह चुके हैं. इसके पहले 1996-97 की बंसीलाल सरकार में वह मंत्री रह चुके हैं.

ओडिशा सरकार के लेटर में कहा गया है, ‘कृपया इसकी वजह बताएं कि माननीय राज्यपाल के लिए किन परिस्थ‍ितियों में हेलीकॉप्टर किराये पर लेना पड़ा और फ्लाइट के लिए निर्धारित शेड्यूल में बदलाव किया गया. क्या इसके लिए किसी सक्षम अथॉरिटी से इजाजत ली गई?’

वहीं इस मसले पर ओडिशा बीजेपी ने बीजेडी सरकार की आलोचना की है. ओडिशा बीजेपी के उपाध्यक्ष समीर मोहंती ने कहा कि राज्यपाल राज्य के प्रमुख होते हैं और संवैधानिक पद पर होते हैं. उन पर राजनीति नहीं होनी चाहिए.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani