DDvRR: दिल्ली ने राजस्थान को चार रन से हराया, प्लेऑफ की जंग हुई मुश्किल

दिल्ली के फिरोजशाह कोटला में बारिश से प्रभावित आईपीएल 11 के 32 वें मुकाबले में दिल्ली डेयरडेविल्स ने राजस्थान रॉयल्स को 4 रनों से हरा दिया. दिल्ली में तेज बारिश होने के चलते मैच कई बार प्रभावित हुआ. इस हार के साथ ही राजस्थान का प्लेऑफ में जाने का रास्ता बेहद मुश्किल हो गया है, जबकि दिल्ली में रोमांचक मुकाबले में जीत हासिल करके प्लेऑफ में जाने की उम्मीदों को कायम रखा है.

बारिश के कारण राजस्थान को 12 ओवरों में 151 रनों का लक्ष्य मिला था जिसे वह हासिल करने में कामयाब नहीं हो पाई. इससे पहले राजस्थान के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया. टॉस होने के बाद बारिश आ गई जिसके कारण मैच डेढ़ घंटे की देरी से शुरू हुआ. इसी वजह से मैच में ओवरों की संख्या 20 से घटा कर 18 कर दी गई.

राजस्थान को मिला था मुश्किल लक्ष्य

दिल्ली ने ऋषभ पंत की 29 गेंदों में तूफानी 69 रन और कप्तान श्रेयस अय्यर 50 रन की तूफानी पारी के दम पर 17.1 ओवरों में छह विकेट खोकर 196 रन बना दिए. लेकिन एक बार फिर बारिश ने मैच रोकने पर मजबूर कर दिया. जिसके बाद राजस्थान को 12 ओवरों में 151 रनों का संशोधित लक्ष्य मिला. राजस्थान के लिए बटलर ने 26 गेंदों में चार चौके और सात छक्कों की मदद से 67 रनों की पारी खेली. लेकिन उनकी यह पारी टीम को जीत दिलाने के लिए काफी नहीं थी.

मुश्किल लक्ष्य का पीछा करने उतरी राजस्थान को बटलर ने बेहद आक्रामक शुरूआत दी. उन्होंने डार्सी शॉर्ट (25 गेंद, 44 रन) के साथ मिलकर 3.1 ओवरों में ही टीम के 50 रन पूरे कर दिए. एक समय राजस्थान मैच जीतने की ओर तेजी से आगे बढ़ रही थी.

बटलर ने महज 18 गेंदों में अर्धशतक पूरा किया. अमित मिश्रा ने सातवें ओवर की चौथी गेंद पर बटलर को पंत के हाथों स्टम्प कर दिया. इसके बाद राजस्थान की मुश्किलें बढ़ गई और संजू सैमसन महज तीन रन ही बनाकर बोल्ट का शिकार बने. बेन स्टोक्स के भी आते ही चलते बने.

यहां से राजस्थान की मैच में हार तय लग रही थी. फिर अंत में कृष्णाप्पा गौतम ने छह गेंदों में दौ चौके और एक छक्का जड़ टीम को जीत के करीब पहुंचाया. आखिरी ओवर में राजस्थान को 15 रनों की दरकार थी लेकिन दो विकेट लेने वाले बोल्ट ने राजस्थान को जरूरी रन नहीं बनाने दिए.

दिल्ली के बल्लेबाजों ने की रनों की बारिश

इससे पहले, पहली पारी खेलने उतरी दिल्ली की शुरूआत खराब रही. धवल कुलर्कर्णी ने पहले ओवर की दूसरी गेंद पर ही मुनरो को बिना खाता खोले पवेलियन भेज दिया.

हालांकि युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (47) ने कप्तान अय्यर के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 40 गेंदों में 73 रनों की साझेदारी कर टीम को अच्छा स्थिति में पहुंचा दिया. पृथ्वी ने अपनी पारी में कुछ अच्छे शॉट लगाए. श्रेयस गोपाल ने आठवें ओवर की दूसरी गेंद पर पृथ्वी को पवेलियन भेज दिया. पृथ्वी सीधी गेंद पर गोपाल को आसान सा कैच दे बैठे.

पृथ्वी के जाने के बाद पंत ने कदम रखा और अपने तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी की. दोनों ने तेजी से रन बटोरने चालू रखे और राजस्थान के हर गेंदबाज को अपना निशाना बनाया. पंत ने 23 गेंदों में अपने 50 रन पूरे कर लिए जिसमें सात चौके और तीन छक्के शामिल थे.

अय्यर और पंत ने इस अंदाज में बल्लेबाजी की कि टीम का स्कोर 14वें ओवर में ही 150 के पार हो गया. अय्यर ने 15वें ओवर की पहली गेंद पर एक रन लेकर अपना अर्धशतक पूरा किया जिसके लिए उन्होंने 34 गेंदों का सामना किया. अर्धशतक पूरा करने के बाद अय्यर ने सिर्फ एक गेंद खेली और उसी पर राहुल त्रिपाठी को सीमा रेखा के पास उनका कैच पकड़ा. अय्यर ने अपनी पारी में तीन चौके और इतने ही छक्के लगाए.

अय्यर ने पंत के साथ 42 गेंदों में 93 रनों की साझेदारी की. पंत का तूफानी पारी का अंत उनादकट ने 15वें ओवर की आखिरी गेंद पर बेन स्टोक्स के हाथों कैच करा किया.

इन टीमों के लिए मुश्किल हुई प्लेऑफ की जंग

इस हार के साथ राजस्थान प्वाइंट्स टेबल में मुंबई इंडियंस से एक स्थान ऊपर सांतवे नंबर पर पहुंच गया है, जबकि 9 मैचों में 3 मैच जीतकर बेहतर रनरेट के आधार पर दिल्ली अब छठवें पायदान पर आ गया है. चेन्नई की टीम 8 में से 6 मुकाबले जीतकर प्वाइंट्स टेबल में टॉप पर बनी हुई है.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani