अब लेहमन पर गिरेगी गाज! स्मिथ-वॉर्नर पर लग सकता है इतने समय के लिए बैन

जोहान्सबर्ग: दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की सीरीज के केपटाउन में खेले गए तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन उपजा बॉल टेंपरिंग विवाद दिन ब दिन बड़ा होता जा रहा है। पूरी दुनिया में ऑस्ट्रेलियाई टीम द्वारा इस शर्मनाक कारनामे को अंजाम देने के बाद उसकी पूरी दुनिया में आलोचना हो रही है। ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट प्रशंसक भी अपनी टीम के इस तरह के व्यवहार से बेदह खफा हैं। ऐसे में स्टीव स्मिथ को ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी के बाद आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स की कप्तानी से हाथ धोना पड़ा है। वहीं डेविड वॉर्नर के सनराइजर्स हैदराबाद का कप्तान बने रहने पर आशंका के बादल मंडरा रहे हैं। ऐसे में अब गाज टीम के कोच डैरन लेहमन पर गिर सकती है।

ऑस्ट्रेलियाई मीडिया में आ रही रिपोर्ट्स के मुताबिक शुक्रवार को शुरू हो रहे सीरीज के चौथे और आखिरी टेस्ट के बाद डैरन लेहमन अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की जांच समिति मंगलवार को जोहान्सबर्ग में अपनी जांच का नतीजा घोषित करेगी। हालांकि बॉल टेंपरिंग विवाद के सामने आने के बाद स्मिथ ने कहा था कि टीम के कोचिंग स्टाफ को इस पूरे घटनाक्रम के बारे में कोई जानकारी नहीं थी लेकिन लेहमन फिर भी संदेह के घेरे से बाहर नहीं हैं। उन्हें इस घटना के दौरान 12वें खिलाड़ी को वॉकी-टॉकी पर निर्देश देते देखा गया था।

आईसीसी ने इसके स्मिथ और बेनक्राफ्ट के खिलाफ कार्रवाई करते हुए स्मिथ पर एक मैच के प्रतिबंध के साथ 100 फीसदी मैच फीस का जुर्माना लगाया था वहीं बेनक्राफ्ट पर मैच फीसदी का 75 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया। इसके बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने भी कड़ी कार्रवाई करते हुए कप्तान स्मिथ और उपकप्तान डेविड वॉर्नर को तत्कार प्रभाव से पद से हटा दिया। मामले की गंभीरता को देखते हुए सीए के सीईओ जेम्स सदरलैंड भी दक्षिण अफ्रीका पहुंच चुके हैं। ऐसे में स्मिथ,वॉर्नर और बेनक्राफ्ट पर आजीवन प्रतिबंध लगाए जाने की खबरों के बीच उनपर 1 साल का प्रतिबंध लगाए जाने की खबरें आ रही हैं। कहा जा रहा है कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के आखिरी टेस्ट के बाद कंगारू टीम को ज्यादा क्रिकेट नहीं खेलनी है ऐसे में इन तीनों खिलाड़ियों पर प्रतिबंध लगाने से टीम पर ज्यादा असर नहीं पड़ेगा।

वहीं लेहमन के इस्तीफे के बारे में ब्रिटिश अखबार टेलिग्राफ ने अपने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि लेहमन, जिन्होंने इस पूरे घटनाक्रम के बाद कोई सार्वजनिक बयान नहीं दिया है, जांच की कार्रवाही से पहले ही अपने पद से हटना चाहते हैं। हालांकि पहले योजना थी वह 2019 की एशेज सीरीज तक ऑस्ट्रेलियाई टीम के कोच बने रहेंगे। स्मिथ से पहले ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान रहे माइकल क्लार्क ने लेहमन को इस पूरे प्रकरण में समान रूप से दोषी मानते हैं भले ही उन्हें चीटिंग के बारे में जानकारी थी या नहीं।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani