अगर कोहली ने तोड़ दिया ये विराट रिकॉर्ड, तो सचिन देंगे खास तोहफा

नई दिल्ली। क्रिकेट की दुनिया पर दो दशक से ज्यादा राज करने वाले सचिन तेंडुलकर का आज जन्मदिन है। इस मौके पर फैंस उन्हें बधाई दे रहे हैं, तो वहीं तोहफे भी मिल रहे हैं। मगर सचिन तेंडुलकर ने विराट कोहली के लिए स्पेशल तोहफा तैयार कर रखा है। जिसका ऐलान उन्होंने अपने जन्मदिन से पहले एक कार्यक्रम में किया।

सचिन तेंडुलकर भी विराट की बल्लेबाजी के मुरीद हैं। विराट जिस तेजी से रन बना रहे हैं, उससे सचिन तेंडुलकर को भी उम्मीद है कि अगर कोई बल्लेबाज उनका ये रिकॉर्ड तोड़ सकता है तो वो विराट ही हैं। इसलिए मुंबई में एक बुक लॉन्च के मौके पर सचिन तेंडुलकर ने विराट को लेकर बड़ा ऐलान कर दिया। सचिन ने कहा कि, अगर विराट वनडे में उनके 49 शतकों के रिकॉर्ड को तोड़ देते हैं तो वो विराट को एक शैंपेन की बोतल देंगे।

सचिन ने कहा, “मैं विराट के साथ एक शैंपेन की बोतल शेयर करूंगा, अगर वो मेरा शतकों का रिकॉर्ड तोड़ देते हैं। उन्होंने कहा कि, मैं विराट को शैंपेन की बोतल नहीं भेजूंगा, बल्कि उसके सम्मान में खुद जाकर ये बोतल शेयर करूंगा।”

सचिन ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को जब अलविदा कहा तो उनके नाम वनडे में 49 शतक थे। जो वाकई बेमिसाल रिकॉर्ड है। शायद ही क्रिकेट खेलने वाला कोई बल्लेबाज इस रिकॉर्ड के आसपास ही पहुंच पाए। सचिन के बाद वनडे में शतक ठोकने के मामले में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पॉन्टिंग हैं। 2012 में संन्यास लेने से पहले पॉन्टिंग के खाते में 30 शतक थे। ऐसे में सचिन और दूसरे बल्लेबाजों के बीच शतकों का अंतर इतना ज्यादा था कि इसे छू पाना वाकई नामुमकिन दिख रहा था। मगर सचिन के संन्यास के चार साल बाद विराट कोहली इस रिकॉर्ड के करीब पहुंचते दिख रहे हैं।

2008 में डेब्यू करने वाले दिल्ली के इस बल्लेबाज ने मॉर्डन डे क्रिकेट में खुद का एक अलग रूतबा बन लिया है। वनडे में तो कोहली का रिकॉर्ड वाकई बेमिसाल है। 29 साल के कोहली ने 208 वनडे में 35 शतक ठोके है। जिस तेजी से विराट का बल्ला रन उगल रहा है। उससे तो यही नजर आ रहा है कि एक दिन वो सचिन के 49 शतकों के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ने के साथ ही दूसरे कई रिकॉर्ड के शिखर पर पहुंच जाएंगे।

सचिन के साथ ही वीरेंद्र सहवाग ने भी ये माना है कि विराट मास्टर ब्लास्टर के इस रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं। ट्वीटर पर वीरू से जब इस पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि विराट वनडे में कम से कम 62 शतक जमाएंगे।

विराट कोहली अक्सर अपने इंटरव्यू में कहते हैं कि उनका करियर सचिन तेंदुलकर को खेलते देखकर ही बना है। 2008 में जब कोहली ने पहली बार सचिन के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर किया था तो वह बहुत डरे हुए थे, लेकिन समय के साथ दोनों के बीच रिश्ता बहुत मजबूत बन गया। खराब दौर में सचिन ने हमेशा कोहली का साथ दिया है। यही वजह है कि विराट सचिन को केवल एक खिलाड़ी के तौर पर नहीं बल्कि एक मेंटर के तौर पर देखते हैं।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani