भारत की 50 फीसद योग्य आबादी का टीकाकरण पूरा, पीएम मोदी ने की देशवासियों के प्रयासों की सराहना

नई दिल्ली। करोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के खतरे के बीच भारत में एक और महत्वपूर्ण मील के पत्थर को पार कर लिया है। देश में 50 फीसद से अधिक योग्य आबादी का पूर्ण टीकाकरण हो चुका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को देशवासियों के प्रयासों की सराहना करते हुए राष्ट्र से कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए इस गति को बनाए रखने का आह्वान किया।

पीएम मोदी ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया का ट्वीट रीट्वीट करते हुए लिखा, भारत के टीकाकरण अभियान ने एक और महत्वपूर्ण मील के पत्थर को पार कर लिया है। कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए इस गति को बनाए रखना महत्वपूर्ण है। और हां, मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग सहित अन्य सभी कोविड-19 संबंधित प्रोटोकाल का पालन करते रहें।

स्वास्थ्य मंत्री मांडविया ने रविवार को एक ट्वीट में लिखा, ‘बधाई हो भारत। यह बेहद गर्व का क्षण है क्योंकि 50 फीसद से अधिक पात्र आबादी का पूर्ण टीकाकरण हो गया है। हम साथ मिलकर कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई जीतेंगे।’ उन्होंने अपने ट्वीट के साथ ‘हर घर दस्तक’ और ‘सबको मुफ्त वैक्सीनेशन’ हैशटैल भी लगाया। स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि देश में 84 फीसद से अधिक वयस्क आबादी को टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है।

भारत सरकार ने 31 दिसंबर तक ‘हर घर दस्तक’ कार्यक्रम के तहत वयस्कों का 100 प्रतिशत कोविड​​​​-19 टीकाकरण का लक्ष्य रखा है। पिछले हफ्ते केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और स्वास्थ्य अधिकारियों ने ‘हर घर दस्तक’ अभियान के संबंध में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ बैठक की और 31 दिसंबर का लक्ष्य निर्धारित किया था।

बता दें कि 50 प्रतिशत से अधिक वयस्क आबादी वाले राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों में अंडमान निकोबार द्वीप समूह, आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, चंडीगढ़, दादरा नगर हवेली और दमन दीव, गोवा, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, केरल, लद्दाख, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड और त्रिपुरा शामिल हैं।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: reporter