पंचायत चुनाव: पहले चरण में 12 हजार से ज्यादा मतदाता करेंगे वोट, पुलिस की रहेगी पैनी नजर

रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (Panchayat Election 2020) की तारीखे नजदीक आ गई हैं. पहले चरण के लिए 28 जनवरी को मतदान होना हैं. इसे लेकर राजनीतिक दल से लेकर राज्य निर्वाचन आयोग (State Election Commission) और पुलिस प्रशासन ने अपनी कमर कस ली हैं. तो वहीं गांव की सरकार को लेकर निर्वाचन आयोग से लेकर राजनीतिक दल अपने-अपने दावे भी कर रहे हैं. सूबे में गांव की सरकार को लेकर दंगल तेज हो गया हैं. तीन चरणों में होने वाले चुनाव में पहले चरण के लिए 28 जनवरी को वोट डाले जाएंगे. पंचायत चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दल अपनी-अपनी जीत का दावा कर रहे हैं.

राजनीतिक दलों का दावा

पहली बार पंचायत चुनाव में अपनी किस्मत को आजमने के लिए जोगी कांग्रेस ताल टोक रही है. वहीं दूसरी ओर बसपा और भाजपा भी पंचायत चुनाव के दंगल को जीतने का दंभ भर रहे हैं. जेसीसी जे सुप्रीमो अजीत जोगी का कहना है कि पार्टी लगभग सभी स्थानों से लड़ रही है. आशा है हमारा प्रतिशत अच्छा रहेगा. तो वहीं बसपा के प्रदेश अध्यक्ष हेमंत पोयाम का कहना है कि पंचायत चुनाव लोकल स्तर पर होता है. उम्मीद है हमारे कई प्रत्याशी चुनकर आएंगे.

तो वहीं सत्तारुढ़ पार्टी कांग्रेस अपने विपक्षी दलों से कुछ खास इस्तेफाक नहीं रख रही हैं. उसको पूरा भरोसा हैं कि वो निकाय चुनाव के बाद पंचायत चुनाव जीतेगी. सूबे के कृषि मंत्री रविंद्र चौबे का कहना है कि छत्तीसगढ़ के किसान खुश हैं. बेहतर परिणाम की उम्मीद है हमें. तो वहीं नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक का कहना है कि बीजेपी के पक्ष में माहौल है. उम्मीद है हमारे अध्यक्ष बनेंगे.

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

वहीं पहले चरण के मतदान के लिए सुरक्षा व्यवस्था के कड़ इंतेजाम किए गए हैं. पहले चरण के लिए 57 विकासखंडों के 12 हजार से ज्यादा मतदान केन्द्रों में वोट डाले जाएंगे. इसके लिए सुरक्षा के कड़े इंतदाम किये गये हैं. तो वहीं राज्य निर्वाचन आयोग ने भी पहले चरण के लिए होने वाले मतदान के लिए अपनी पूरी तैयारी कर ली है. मतदान के लिए मतपेटी से लेकर मतपत्रों और मतदानकर्मियों की ड्यूटी के लिए तैनात कर दिया गया है.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: reporter