Chhattisgarh : पापुनि के महाप्रबंधक अशोक चतुर्वेदी के खिलाफ प्राथमिक जांच पर हाईकोर्ट ने रोक लगाई

बिलासपुर । हाईकोर्ट ने पाठ्य पुस्तक निगम के महाप्रबंधक अशोक चतुर्वेदी के खिलाफ EOW को एक और मामले में किसी भी कार्यवाही पर रोक लगाए जाने के निर्देश दिए हैं। पापुनि के GM अशोक चतुर्वेदी के खिलाफ दो मामलों में कार्यवाही पर हाईकोर्ट ने पहले ही रोक लगा रखी है।

कोर्ट ने कार्रवाई पर लगा दी रोक

अब अशोक चतुर्वेदी के खिलाफ EOW के प्राथमिक जांच क्रमांक 54/2019 पर भी कार्यवाही से रोक लगा दी है। जस्टिस संजय के अग्रवाल की एकल पीठ में हुई सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता के अधिवक्ताओं ने तर्क दिया कि राज्य शासन ने पहले कार्यवाही करते हुए बाद में अनुमोदन लिया है, जो कि विधि विपरीत है। जस्टिस संजय के अग्रवाल की कोर्ट ने बहस के बाद फैसला सुरक्षित कर लिया था, जिसे अब से कुछ देर पहले सार्वजनिक किया गया है।

अब 29 जनवरी को होगी अगली सुनवाई

याचिकाकर्ता अशोक चतुर्वेदी की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता आशुतोष पांडेय और भास्कर पयासी और ए श्रीधर ने दलीलें रखीं। हाईकोर्ट ने 29 जनवरी की तारीख राज्य सरकार से जवाब के लिए नियत की है।

प्रतिनियुक्ति निरस्त करने को भी दी है चुनौती

राज्य शासन ने एमडी अशोक चतुर्वेदी की प्रतिनियुक्ति समाप्त कर मूल पद पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग में उपायुक्त के रूप में कार्य करने का आदेश दिया है। इस आदेश को भी उन्होंने हाई कोर्ट में चुनौती दी है। 28 नवंबर को हाई कोर्ट ने इस मामले में भी क्र्रियान्वयन पर रोक लगाई है। यह प्रकरण हाई कोर्ट में लंबित है, जिसकी सुनवाई 27 जनवरी को होगी।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: reporter