बालिका दिवस: लोगों ने रैली निकाल कर कहा- बेटी पढ़ेगी तो सुंदर समाज गढ़ेगी

संकुल केंद्र जामबहार के प्राइमरी स्कूल भठगांव में शुक्रवार को राष्ट्रीय बालिका दिवस पर गांव की महिलाओं व छात्र-छात्राओं ने रैली निकालकर कहा कि बेटी पढ़ेगी तो सुंदर समाज गढ़ेगी। संगोष्ठी में सहायक शिक्षिका व सोनगुढ़ा की हेड मास्टर पाबेरेन तिर्की ने कहा कि बेटियां आज बेटों से कम नहीं है। ऐसा कोई भी कार्य नहीं है जो बेटियां नहीं कर सकती हैं। बेटियों को अच्छी शिक्षा देने की जरूरत है। प्राइमरी से लेकर कॉलेज तक की शिक्षा देंगे तो बेटियां आत्मनिर्भर बनेंगी। जागरूकता रैली के माध्यम से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, बेटी है तो कल है, बेटी है जीवन का आधार जैसे नारे लगाकर ग्रामीणों को जागरूक किया गया। इस मौके पर हेड मास्टर नोहर चंद्रा, श्यामसुंदर नायक, अजय कुमार कश्यप, मनुप्रताप सिंह समेत अन्य मौजूद थे।

कोरबा | गवर्नमेंट मिडिल स्कूल सोनपुरी में शिक्षक कृष्ण कुमार चंद्रा व डीआर कश्यप के अगुवाई में शुक्रवार काे राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया गया। छात्राओं ने जुगाड़ के कबाड़ से तीन डस्टबिन बनाए, जिसे स्कूल को देकर इसका उपयोग करने विद्यार्थियों को प्रेरित किया। कक्षा 8 वीं की छात्रा अंजली खड़िया व एकता प्रजापति ने चावल व अरहर के दानों से चित्र बनाए, जो आकर्षण का केन्द्र रहे। वहीं भाषण, कविता और सामूहिक नृत्य की प्रस्तुति भी दी। शत-प्रतिशत उपस्थिति पर 16 विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया।

राष्ट्रीय बालिका दिवस पर शुक्रवार को घंटाघर मैदान में वर्ल्ड विजन इंडिया (डब्ल्यूवीआई) द्वारा कार्यक्रम आयोजित करके बालिकाओं के साथ बैठक करने के बाद रैली निकाली गई। जिसमें जिला प्रशासन के साथ ही सरकारी व गैर सरकारी संगठनों ने कहा कि बेटी पढ़ेगी तो आगे बढ़ेगी। वहीं बालिकाओं की जरूरत व चुनौतियों की जानकारी दी गई। दिवस का उद्देश्य बताते हुए इस दिन बालिकाओं के सशक्तिकरण को बढ़ावा देना और मानव अधिकारों की पूर्ति करने के संबंध में बताया गया। शिक्षा, पोषण, कानूनी अधिकार, चिकित्सा देखभाल व भेदभाव से सुरक्षा के साथ ही महिलाओं के खिलाफ हिंसा और बाल विवाह के खिलाफ बालिकाओं को जागरूक किया गया। कार्यक्रम के प्रोग्राम मैनेजर ने बताया कि कार्यक्रम में करीब 450 बालिका शामिल हुईं। जिनकी मौजूदगी में सभा की गई। साथ ही घंटाघर चौक से सुभाष चौक तक रैली निकाली गई। वहीं वाद-विवाद, गीत व नृत्य के जरिए बालिका दिवस व सुरक्षा का महत्व बताया गया। बालिकाओं व अतिथियों को पुरस्कार वितरण किए गए। कार्यक्रम के दौरान बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष मधु पांडेय, बाल संरक्षण अधिकारी दया दास, वर्ल्ड विजन इंडिया के मैनेजर एनबी जोशी, एनजीओ एसईआईडी धमेंद्र राजपूत, शिक्षिका सुमिता चौधरी व रेणुका लाडेर उपस्थित थे।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: reporter