सांप्रदायिक तनाव फैलाने का रहा है कांग्रेस का इतिहास- कुलस्ते

रायपुर । छत्तीसगढ़ पहुंचे केंद्रीय इस्पात एवं ग्रामीण विकास राज्यमंत्री फगन सिंह कुलस्ते ने कानून व्यवस्था के मुद्दे को लेकर राज्य सरकार को आड़े हाथ लिया। रायपुर में अतिथि विश्रामगृह पहुना में पत्रकारों से चर्चा में कुलस्ते ने कहा कि कांग्रेस के इतिहास में ऐसी घटनाएं मिलती हैं। जहां-जहां कांग्रेस की सरकार है, वहां तनाव का वातावरण बनता है।

कुलस्ते में उत्तर प्रदेश सरकार का उदाहरण देते हुए कहा कि पहले उप्र की छवि गुंडाराज की थी। मगर, जब से योगी सरकार आई है, वहां कानून-व्यवस्था को अच्छी तरह मेंटेन किया गया है। वहां सांप्रदायिक तनाव फैलाने का काम कोई करता है, तो सरकार कड़ी कार्रवाई करती है। राज्य सरकारों को चिंता करनी चाहिए कि प्रदेश का वातावरण न बिगड़े।

कुलस्ते ने कहा कि मतांतरण का कोई बही-खाता नहीं होता है। भारत के अंदर जो हिंदू परंपरा है, वह सुरक्षित रहे, यह पूरा देश चाहता है। कुछ लोग योजनाबद्ध तरीके से लोगों को प्रलोभन देकर इसे भंग करने का प्रयास कर रहे हैं, जो ठीक नहीं है। जनजाति समाज की मान्यताएं खत्म हो गई तो उनकी पहचान खत्म हो जाएगी। कुलस्ते ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के उस बयान पर निशाना साधा, जिसमें उन्होंने कहा था कि भाजपा के पास सिर्फ एजेंडा मतांतरण और सांप्रदायिकता है।

कुलस्ते ने कहा कि किसी समाज को तोड़ने का प्रयास ठीक नहीं, कोई समाज इसे स्वीकार नहीं करता है। स्थितियां बदलेंगी तो विवाद की स्थिति भी बनेगी। धार्मिक आस्था वाले उत्साह से त्योहार मनाते हैं, इसमें कोई व्यवधान करेगा, तो दिक्कत आती है।

कोयले की कमी पर केंद्र सरकार की है नजर

केंद्रीय मंत्री कुलस्ते ने कोयले की कमी पर कहा कि केंद्र सरकार पूरे मामले पर नजर रखे हुए है। इसकी चिंता सरकार और कोयला मंत्रालय कर रहे हैं। कई बार ऐसी परिस्थितियां बनती हैं, जिसे जरूरत के आधार पर पूरा करते हैं। कोशिश है कि इस सेक्टर को और बढ़ाया जाए।

कौशिक के घर देखा बस्तर का सीताफल तो खुद को रोक नहीं पाए

केंद्रीय मंत्री कुलस्ते ने नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के आनंद नगर निवास पर पहुंचकर उनसे मुलाकात की। उनके स्वागत के लिए बाकायदा बस्तर से सीताफल मंगवाया गया था। कुलस्ते ने बस्तर के सीताफल को देखा, उसे हाथ में उठाकर कहा कि यह तो अन्य प्रदेशों के सीताफल से बेहतर है। स्वाद भी अनोखा है।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: reporter