एसबीआई ने विभिन्न अवधि की जमा दर 0.75% तक बढ़ाई

मुंबई
देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने अपनी खुदरा और थोक जमा दरों को 0.75% तक बढ़ाया है। बुधवार से ही प्रभावी यह दरें विभिन्न अवधि की जमाओं के लिए हैं। एक करोड़ रुपये तक की खुदरा जमा दर में 0.50 प्रतिशत तक वृद्धि की गई है।

फायदा होगा। खासकर, रिटायर्ड पर्सन ज्यादा फायदे में रहेंगे। दरअसल, इस वर्ष के केंद्रीय बजट में एफडी में पैसे लगानेवाले रिटायर्ड इन्वेस्टरों के लिए टीडीएस की सीमा 10,000 से बढ़ाकर 50,000 रुपये करके बड़ा फायदा दिया गया था।

एक वर्ष लेकिन दो वर्ष से कम अवधि की सावधि जमा (एफडी) की दर में 0.15% की वृद्धि की गई है। यह 6.25% से बढ़कर 6.40% हो गई है। इसी प्रकार दो वर्ष से 10 वर्ष तक की अवधि वाले खुदरा जमा की दर 0.50% बढ़ाकर 6% से 6.5% कर दी गई है।

बैंक ने अपनी सावधि थोक जमा दर (फिक्स्ड बल्क डिपॉजिट रेट यानी एफबीडीआर) को भी बदला है। एक वर्ष लेकिन दो वर्ष से कम की अवधि में मच्योर होनेवाली एक करोड़ रुपये से 10 करोड़ रुपये की थोक जमा पर भी ब्याज दर को 0.50% बढ़ाकर 6.25% से 6.75% किया गया है।

इसी प्रकार दो वर्ष लेकिन तीन वर्ष से कम की अवधि में मच्योर होनेवाली जमा पर ब्याज दर को 0.75% बढ़ाकर 6.75% किया गया है। एक वर्ष से लेकर दो वर्ष से कम की अवधि में मच्योर होनेवाली 10 करोड़ रुपये से अधिक की जमा पर ब्याज दर को 0.50% बढ़ाकर 6.75% किया गया है।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani