यूं ही नहीं रॉकेट बन रहा शेयर बाजार, ये 4 फैक्टर हैं वजह

इस कारोबारी हफ्ते के दूसरे दिन शेयर बाजार ने इतिहास रचा है. मंगलवार को निफ्टी ने जहां 11 हजार का आंकड़ा पार कर लिया है. वहीं, सेंसेक्स भी 36 हजार के पार पहुंच गया है. साल की शुरुआत से ही शेयर बाजार लगातार नये रिकॉर्ड बना रहा है. बाजार में आई इस रिकॉर्ड तेजी के लिए कई फैक्टर जिम्मेदार हैं. शुरुआती कारोबार में स्टील, आईटी और फार्मा शेयरों में बढ़त देखने को मिल रही है.

अमेरिकी बाजार की तेजी

अमेरिका में शटडाउन की स्थिति को खत्म करने पर समझौते को लेकर कुछ रास्ता साफ हुआ है. इससे सोमववार को अमेरिकी शेयर बाजार में भी तेजी देखने को मिली है. घरेलू शेयर बाजार के लिए इससे सकारात्मक संकेत मिले हैं. इससे तेजी आई है.

एश‍ियाई बाजार भी मजबूत

एश‍ियाई बाजारों में भी शुरुआती कारोबार में तेजी देखने को मिल रही है. सिंगापुर का एसजीएक्स भी पहली बार 11,000 के स्तर के पार पहुंच गया है. एश‍ियाई बाजारों में आई इस तेजी से घरेलू शेयर बाजार को भी मजबूती मिली है.

कंपनियों की कमाई

तीसर तिमाही में घरेलू कंपनियों की कमाई के आंकड़े आए हैं. इस तिमाही में लगभग सभी कंपनियों ने अच्छा मुनाफा कमाया है. इससे विदेशी निवेशकों के साथ ही घरेलू निवेशकों की तरफ से निवेश बढ़ा है. इससे बाजार में लिक्विडिटी में भी बढ़ोतरी हुई है.

जीएसटी रेट

18 जनवरी को जीएसटी परिषद की बैठक में 60 से ज्यादा उत्पादों और सेवाओं पर लगने वाले उत्पादों पर जीएसटी रेट में कटौती की गई है. इससे निवेशकों का भरोसा बढ़ा है, जिससे बाजार को मजबूती मिली है.

लगातार रिकॉर्ड बना रहा है शेयर बाजार

इस साल शेयर बाजार का रिकॉर्ड बनाने का सिलस‍िला लगातार जारी है. आज नया इतिहास रचने से पहले बाजार कई रिकॉर्ड रच चुका है.

इस कारोबारी हफ्ते की शुरुआत भी शेयर बाजार ने रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचकर की थी. सोमवार को सेंसेक्स ने 35827.70 का रिकॉर्ड स्तर छुआ. निफ्टी भी 10,975.10 के नये रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा.

इस कारोबारी हफ्ते से पहले पिछले कारोबारी हफ्ते के दौरान भी शेयर बाजार ने नया रिकॉर्ड रचने का कारनाम किया. बाजार में इस साल की शुरुआत से ही रिकॉर्ड बनाने का सिलस‍िला जारी है.

5 जनवरी से को सबसे पहले सेंसेक्स 34175 और निफ्टी 10566.10 के स्तर पर पहुंच गया था. इसके बाद लगातार बाजार ने नये रिकॉर्ड बनाता रहा.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani