मुंबई वनडे: टेलर और लैथम ने भारत को हावी होने का कोई मौका नहीं दिया

मुंबई : भारतीय कप्तान विराट कोहली ने न्यूजीलैंड की तरफ से लंबी शतकीय भागीदारी करने वाले टाम लैथम और रोस टेलर की तारीफ करते हुए पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में हार के लिये कुछ हद तक अपने बल्लेबाजों को भी जिम्मेदार ठहराया. कोहली ने भारत की छह विकेट से हार के बाद कहा, हम इसलिए हारे क्योंकि न्यूजीलैंड ने हमें दबाव में ला दिया था. हमें लग रहा था कि 275 रन का योग अच्छा होगा लेकिन रोस और टाम ने बेहतरीन बल्लेबाजी की. उन्होंने हमें कोई मौका नहीं दिया। और जब आप 200 रन की भागीदारी करते हो तो फिर आप जीत के हकदार होते हो.

भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए कोहली के अपने 200वें मैच में 121 रन की मदद से आठ विकेट पर 280 रन बनाये. न्यूजीलैंड ने इसके जवाब में टाम लैथम (नाबाद 103) और रोस टेलर (95) के बीच चौथे विकेट के लिये 200 रन की साझेदारी से चार विकेट पर 284 रन बनाकर तीन मैचों की श्रृंखला में 1-0 से बढत बनायी. कोहली ने कहा कि ओस को ध्यान में रखते हुए हमने आखिरी 13-14 ओवरों में 20 से 30 रन कम बनाये लेकिन पहली पारी में विकेट अलग तरह से खेल रहा था। हम बल्लेबाजी में इससे बेहतर प्रदर्शन चाहेंगे. अगर एक दो अन्य बल्लेबाजों ने रन बनाये होते तो हम 40 अतिरिक्त रन बना सकते थे.

उन्होंने कहा कि लेकिन न्यूजीलैंड ने हमारे स्पिनरों और तेज गेंदबाजों का अच्छी तरह से सामना किया. टाम और रोस को श्रेय जाता है. रोस ने हाल में बहुत अधिक अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेले लेकिन उसने शानदार बल्लेबाजी की. ट्रेंट बोल्ट ने भी शुरू में शानदार गेंदबाजी की. कोहली ने केदार जाधव को गेंदबाजी नहीं देने के बारे में कहा, अगर हम पहले ही जीत की दौड से बाहर हो जाते या उनके निचले क्रम के बल्लेबाज खेल रहे होते तो हम केदार का उपयोग करते. हार्दिक (पंड्या) भी अच्छा प्रदर्शन कर रहा था और इसलिए हमें केदार को गेंद सौंपने की जरुरत महसूस नहीं हुई. न्यूजीलैंड ने कप्तान केन विलियमसन ने भी लैथम और टेलर की तारीफ की. उन्होंने कहा, यह बेहतरीन प्रदर्शन है. हमने पारी के शुरू से ही लय हासिल कर ली थी.

विराट ने शानदार पारी खेली लेकिन हमारे बल्लेबाज क्रीज पर टिके रहे और मेरे रहते हुए यह लक्ष्य का पीछा करते हुए शानदार जीत में से एक रही. टाम और रोस ने बीच के ओवरों में पारी को अच्छी तरह से संवारा. मैन आफ द मैच लैथम ने कहा, यहां काफी उमस थी लेकिन हमने पूरे 50 ओवर तक टिके रहने को लक्ष्य बनाया था. स्वदेश में परिस्थितियां काफी भिन्न हैं लेकिन यहां बहुत मुश्किल हालात हैं. मैंने पांचवें नंबर पर उतरकर मौके का फायदा उठाया और टीम की जीत में योगदान देकर मैं खुश हूं. हमारी साझेदारी का सबसे महत्वपूर्ण पहलू यह रहा कि हम प्रत्येक ओवर के बाद एक दूसरे से बात कर रहे थे। रोस ने बेहतरीन पारी खेली। टेलर ने कोहली और अपने साथी बल्लेबाज लैथम दोनों की तारीफ की.

उन्होंने कहा, जिस तरह से कोहली ने पारी को संवारा उससे हम पर दबाव आ गया था. टाम लैथम ने हालांकि अच्छी बल्लेबाजी की और हमारी पारी को संवारा. उसने मुझ पर से भी दबाव हटाया। हम लंबी साझेदारी निभाना चाहते थे ताकि किसी नये बल्लेबाज को क्रीज पर न उतरना पडे. कुलदीप और चहल दोनों अच्छी गेंदबाजी कर रहे थे लेकिन दायें और बायें हाथ के बल्लेबाज के होने से हमें मदद मिली.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani