महामुलाकात: मोदी महान PM, आतंकवाद से मिल कर लड़ेंगे – ट्रम्प बयान की दस बड़ी बातें

वॉशिंगटन । डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका पहुंचे हैं. आज पीएम मोदी ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से अपनी पहली शिखर बैठक के लिए मुलाकात की है. ट्रंप और उनकी पत्नी मेलेनिया ने पीएम मोदी का स्वागत किया. व्हाइट हाउस में जाने से पहले दोनों नेता गर्मजोशी से एकदूसरे के हालचाल पूछते हुए नज़र आए. मुलाकात और द्विपक्षीय बातचीत के बाद साझा बायन में पीएम मोदी और राष्ट्रपति ट्रंप ने आतंकवाद पर निशाना साधा है. जानें मोदी-ट्रंप के बयान की दस बड़ी बातें.

1- मोदी महान प्रधानमंत्री– ट्रंप

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत करना उनके लिए सम्मान की बात है. उन्होंने कहा कि वह महान प्रधानमंत्री हैं. मैं उनके साथ बात करता रहा हूं और उनके बारे में पढ़ता रहा हूं. वह बहुत अच्छा काम कर रहे हैं.

2- भारत अमेरिका का सच्चा दोस्त- ट्रंप

ट्रंप ने कहा, इस साल भारत अपनी आजादी की 70वीं सालगिरह मनाएगा. मैं भारत के लोगों को इसके लिए बधाई देता हूं. मैंने अपने कैम्पेन के दौरान कहा था कि भारत अमेरिका का सच्चा दोस्त साबित होगा और जो कि हुआ है. मोदी और मैं दोनों सोशल मीडिया में वर्ल्ड लीडर्स हैं.”

3- भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यस्था- ट्रंप

राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, “भारत और अमेरिका के संविधान के पहले तीन शब्द एक जैसे हैं- ‘We the People’. आज की मुलाकात के बाद मैं कह सकता हूं भारत और अमेरिका के बीच ऐसे मजबूत रिश्ते कभी नहीं रहे. पीएम मोदी मैं आपकी उपल्बधियों के लिए मैं आपको सलाम करता हूं. भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यस्था है.

4- दोनों देश आतंकवाद को खत्म करने के लिए काम करेंगे- ट्रंप

आतंकवाद पर हमला बोलते हुए कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, ”दोनों देशों को आतंकवाद की बुराई ने घेर रखा है. हम आतंकवाद और कट्टरपंथी विचारधारा को खत्म करने के लिए प्रतिबद्ध हैं. दोनों देश आतंकवाद को खत्म करने के लिए काम करेंगे.” इसके साथ ही दोनों देशों ने पाकिस्तान से कहा कि वह मुंबई हमलों और पठानकोट में हुए आतंकी हमले के साजिशकर्ताओं को जल्द न्याय के कठघरे में लाए.

5- यह125 करोड़ भारतीयों का सम्मान- मोदी

मोदी ने गर्मजोशी भरे स्वागत के लिए ट्रंप और उनकी पत्नी के प्रति आभार जताया. मोदी ने कहा, ‘’मेरा स्वागत भारत के 125 करोड़ नागरिकों का स्वागत है. मैं इसके लिए राष्ट्रपति और प्रथम अमेरिकी महिला के प्रति दिल से आभार जताता हूं.’’

6- दोनों देश एक दूसरे के अच्छे सहयोगी- मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ”आप दुनिया के सबसे पुराने लोकतंत्र हैं और हम दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र हैं. इस साझा विरासत को मिलकर आगे बढ़ा सकते हैं. भारत और अमेरिका मिलकर दुनिया को बहुत कुछ दे सकते हैं. इस दिशा में आपका नेतृत्व बहुत बड़ी भूमिका अदा करेगा. भारत अमेरिका के लिए और अमेरिका भारत के लिए अच्छे सहयोगी हैं.”

7- आतंकवाद से लड़ना हमारी
सहभागिता का अहम हिस्सा- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, ”आतंकवाद जैसी वैश्विक चुनौतियों से हमारे समाज की रक्षा हमारी टॉप प्रियॉरिटी है. आतंकवाद से लड़ना और आतंकवादियों की सुरक्षित पनाहगाहों को तबाह करना हमारी सहभागिता का अहम हिस्सा होगा. इसमें इंटेलिजेंस और सूचना के आदान-प्रदान को बढ़ाएंगे.”

8- दोनों देश विकास के ग्लोबल इंजन- मोदी

पीएम मोदी ने कहा, ”हमारी बातचीत हर लिहाज से महत्वपूर्ण रही. ये विश्वास पर आधारित थी. वैल्यू, प्राथमिकताएं, चिंताओं और रुचियों की समानता थी. ये अमेरिका और भारत के बीच सहयोग और सहभागिता की चरम सीमाओं की उपलब्धि पर केंद्रित है. हम दोनों देश विकास के ग्लोबल इंजन हैं.”

9- अफगानिस्तान में बढ़ती अस्थिरता चिंता का विषय- मोदी

मोदी ने कहा कि ये दौरा सहयोग की नई ऊंचाइयों पर ले जाएगा. मोदी ने कहा कि न्यू इंडिया और मेक अमेरिका ग्रेट अगेन एक जैसे हैं. अफगानिस्तान का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि अफगानिस्तान में बढ़ती अस्थिरता दोनों देश के लिए चिंता का विषय है.

10- ट्रंप को दिया भारत आने का न्योता

पीएम मोदी ने राष्ट्रपति ट्रंप और उनकी बेटी को भारत आने का न्योता भी दिया. मोदी ने कहा, ”मैंने राष्ट्रपति ट्रंप को परिवार सहित भारत आने का न्योता देता हूं. मैं इनका का स्वागत करने की प्रतीक्षा कर रहा हूं. मेरा निमंत्रण स्वीकार करने के लिए राष्ट्रपति ट्रंप का धन्यवाद.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani