नोएडा सेक्टर 78 की पॉश सोसायटी में गांववालों की पत्थरबाजी, मेड को पीटने का आरोप

राजधानी से सटे नोएडा सेक्टर 78 की पॉश सोसायटी महागुन मॉडर्न में बुधवार सुबह जोरदार हंगामा हुआ। सोसाइटी में काम करने वाली एक मेड को पीटने और बंधक बनाने के आरोप के बाद गांववालों ने पत्थरबाजी कर दी। सोसाइटी के लोगों और गार्ड्स ने भी जवाब में पत्थर फेंकने शुरू कर दिए। इस घटना से इलाके में काफी देर तक अफरातफरी का माहौल बना रहा। बवाल की खबर के बाद पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन वह भी मूकदर्शक बनी रही।

यह विवाद सोसायटी में काम करने वाली एक मेड को लेकर हुआ। गांववालों का आरोप है कि उस मेड को दो दिन से घर नहीं जाने दिया जा रहा था और बुधवार सुबह वह बेहोशी की हालत में मिली। दूसरी ओर सोसायटी का आरोप था कि मेड को दस हजार रुपये चुराते रंगे हाथ पकड़ा गया था, जिसके डर से वह घर नहीं लौटी।

बुधवार सुबह मेड के परिचित और गांव के लोग नोएडा सेक्टर 78 स्थित महागुन मॉडर्न सोसायटी पहुंच गए। उन्होंने वहां तोड़फोड़ और पत्थरबाजी शुरू कर दी। उनकी सोसायटी के सुरक्षा गार्ड्स से झड़प भी हुई। पुलिस के आने के बाद दोनों ओर से पथराव भी हुआ और पुलिस तमाशा देखती रही।

जो अमीर लोग अपने पैसे सॅभाल कर नही रख सकते, उन्हे सस्ती मेड नही रखनी चाहिये| अपनी तनख्वाह 2050 के हिसाब से चाहते है और मेड को तनख्वाह 1950 की . से देना चाहते है| खुद
मकान मालकिन ने पूरे मामले पर बात करते हुए कहा, ‘हमारे यहां काम करने वाली बांग्लादेशी मेड पर हमें चोरी का शक था। सोमवार को हमने उससे इस बारे में पूछा और कहा कि हमारे पास उसका एक विडियो है, जिसमें वह चोरी करती दिख रही है। घबराकर उसने 10 हजार रुपये चुराने की बात कुबूल की और पैसे उसकी तनख्वाह से काट लेने को कहा, लेकिन वह 12 और घरों में काम करती है इसलिए हमने सोसायटी को बताना जरूरी समझा।’

उन्होंने कहा, ‘उसे डर था कि बात खुल गई तो नौकरी चली जाएगी, जब हम शिकायत करने गए तो वह भाग गई और मोबाइल भी मेरे घर छोड़ दिया। रात को उसका पति यह कहने आया कि मेड घर नहीं लौटी और उसने मोबाइल मांगा। मुझे शक हुआ कि उसे मोबाइल के बारे में कैसे पता चला। थोड़ी देर बाद वह पुलिस के साथ लौटा और हमने पूरी बात बताई। पुलिसवाले ने भी उसे डांटा और हमें परेशान करने से मना किया। इसके बाद सुबह पथराव और बवाल शुरू हो गया।’

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani