पीओके में लगे पाक के खिलाफ नारे, लोगों ने कहा- बहुत हो रहा जुल्म

नई दिल्ली। संयुक्त कश्मीर पीपुल्स नेशनल पार्टी (यूकेपीएपी) ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से राजनीतिक कार्यकर्ताओं का अपहरण किए जाने के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों ने अपने हाथों में बैनर थाम रखा था। इन बैनरों पर लिखा था ‘तथाकथित आजाद कश्मीर में अपहरण और लापता होने को रोके’। लोगों ने पाकिस्तान के खिलाफ नारे भी लगाए। अपहरण की घटनाओं के विरोध में रावलपिंडी प्रेस क्लब में एक सम्मेलन भी आयोजित किया गया, इसमें वक्ताओं ने पीओके के लोगों से संबंधित विभिन्न मुद्दे उठाए। इसके अलावा मुजफ्फराबाद शहर में एक विरोध रैली का भी आयोजन किया गया।

पीओके निवासियों का आरोप
पीओके के निवासियों का कहना है कि उन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उनका आरोप है कि उन्हें 1947 के बाद से पाकिस्तानी कब्जे के तहत द्वितीय श्रेणी वाले नागरिकों के रूप में माना जाता है। हाल के दिनों में कई घटनाओं की सूचना दी गई है जहां पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने राजनीतिक कार्यकर्ताओं, खासकर युवाओं का अपहरण कर लिया और अत्याचार किया। जिसने भी पाकिस्तान के कब्जे और उनके प्राकृतिक संसाधनों के शोषण के खिलाफ आवाज उठाई, उन पर जुल्म किया गया।

कई महीनों तक कर्मचारियों को वेतन नहीं

इससे पहले 5 नवंबर को सरकारी कर्मचारियों ने मुजफ्फराबाद में विरोध प्रदर्शन किया था और वेतन भुगतान किए जाने की मांग की थी। उनका कहना था कि कई महीनों से कर्मचारियों को वेतन नहीं दिया गया है। भेदभावपूर्ण नीतियों के लिए इस्लामाबाद को दोषी ठहराते हुए प्रदर्शनकारियों ने नियमित नौकरियों की मांग की थी।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani