गांगुली बोले- लॉर्ड्स में टी-शर्ट जैसा वाकया नहीं दोहरा सकता

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने बताया कि उनके लिए साल 2002 में इंग्लैंड को उनकी ही सरजमीं पर नेटवेस्ट सीरीज हराकर लॉर्ड्स की बालकनी में टी-शर्ट उतार कर लहराने वाला पल बेहद खास रहा था. गांगुली ने इंडिया टुडे कान्क्लेव ईस्ट 2017 के कार्यक्रम में इस बात का जिक्र किया था.

इस कार्यक्रम में सौरव गांगुली अपनी पत्नी डोना गांगुली के साथ पहुंचे थे. इस कार्यक्रम में डोना गांगुली ने बताया कि जब लॉर्ड्स के मैदान में सौरव ने अपनी टी-शर्ट निकाली थी, तो उन्हें कैसा लगा था. डोना ने बताया कि सौरव का वह अंदाज किसी भी लड़की की तरह मुझे भी बेहद अच्छा लगा था.

इसके बाद गांगुली ने भी अपनी टी-शर्ट वाले वाकये पर कहा कि वह कभी यह (टी-शर्ट निकाल कर लहराना) दोबारा नहीं कर सकते. उन्होंने कहा, कि ‘स्पोर्ट्स चैनल’ मेरी यह फुटेज बार-बार दिखाते रहते हैं, एक बार मैंने प्रोडूसर को फोन कर कहा कि मेरे इंटरनेशनल रन और शतक भी दिखाने के लिए ही हैं. लेकिन उन्होंने कहा, यही वह चीज है जो वे दिखाना चाहते हैं.’

गांगुली ने कहा, ‘लॉर्ड्स में टी-शर्ट वाला पल वह कभी नहीं भूल सकते और यह काफी संतुष्टि देता है. मेरे लिए डेब्यू टेस्ट में शतक के बाद लॉर्ड्स स्टेडियम के रिकार्ड्स बोर्ड पर अपना नाम लिखा होना बेहद खास था.’

बता दें कि 13, जुलाई 2002 को सौरव गांगुली की अगुवाई में भारतीय टीम ने क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स में इंग्लैंड को मात दी थी. भारत ने फाइनल में इंग्लैंड को हराकर नेटवेस्ट सीरीज अपने नाम की थी. 15 साल पहले खेले गए इस मैच में भारतीय क्रिकेट को कई नए हीरो मिले थे, जिसमें युवराज सिंह, मोहम्मद कैफ और जहीर खान हीरो बनकर उभरे थे.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani