टीकमगढ़ मामला : गृहमंत्री ने थाना प्रभारी को हटाया, पूरा स्टाफ लाइन अटैच

सागर। टीकमगढ़ में किसानों के साथ हुई मारपीट और किसान आंदोलन को लेकर जांच रिपोर्ट आ गई है। हालांकि इस रिपोर्ट को लेकर सरकार ने कोई तथ्य सार्वजनिक नहीं किया है। इधर प्रदेश के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने पूरे मामले में थाना प्रभारी को जिले से हटाने के निर्देश दे दिए हैं।

इसके अलावा गृहमंत्री ने किसानों की पिटाई की घटना के समय थाने में पदस्थ स्टाफ को लाइन अटैच कर सभी पुलिसकर्मियों के खिलाफ विभागीय जांच के भी आदेश दिए हैं।

सागर में मीडिया से चर्चा में गृहमंत्री ने कहा कि जांच रिपोर्ट का आकलन किया जाना बाकी है और जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके बाद कार्रवाई की जाएगी।

किसानों ने आरोप लगाया था कि प्रदेश सरकार भले ही शासन स्तर से जांच करा रही हो लेकिन स्थानीय किसानों को सरकार की जांच पर भरोसा नहीं है। लेकिन गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कार्रवाई करते हुए थाना प्रभारी को हटाते हुए पूरे थाना स्टाफ को लाइन अटैच कर दिया।
गौरतलब है कि टीकमगढ़ जिले को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग को लेकर किसानोंं ने कलेक्टर ऑफिस के बाहर विरोध प्रदर्शन किया था। मामला इसलिए बिगड़ गया क्योंंकि किसानों के साथ कांग्रेसी भी शामिल थे। जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा ज्ञापन नहीं लिया गया तो किसानों और कांग्रेसियोंं ने पथराव कर दिया। पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े थे। विरोध प्रदर्शन के बाद वापस लौटते हुए किसानों की दो ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को देहात पुलिस ने रोका और फिर पुलिसकर्मियों ने इनके कपड़े उतारकर इन्हें लॉकअप में बंद किया और जमकर पिटाई की थी।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani