60 सेकंड में सब्सक्राइब हुआ रिलायंस निप्पॉन लाइफ का IPO

नई दिल्ली. अनिल अंबानी की अगुवाई वाले रिलायंस ग्रुप की एसेट मैनेजमेंट ईकाई रिलायंस निप्पॉन लाइफ एएमसी का आईपीओ खुलते ही पहले दिन एक मिनट के अंदर ही भर गया। हाई नेटवर्थ इन्वेस्टर्स (एचएनआई) के साथ क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (क्यूआईबी) कोटा एक मिनट के अंदर ओवरसब्सक्राइब हो गया। 10.01 बजे एचएनआई कोटा 6 गुना, जबकि क्यूआईबी कोटा 1.6 गुना सब्सक्राइब हुआ। इसी समय रिटेल कोटा 0.02 गुना सब्सक्राइब हुआ। 10.45 बजे तक आईपीओ 2.11 गुना सब्सक्राइब हुआ है।

एंकर इन्वेस्टर्स से जुटाए 462 करोड़
कंपनी ने एंकर इन्वेस्टर्स से 462 करोड़ रुपए जुटाए हैं। एंकर इन्वेस्टर्स में अबु धानी इन्वेस्टमेंट ऑथरिटी, कुवैत इन्वेस्टमेंट ऑथरिटी, मोर्गन स्टैनले, फीडिलिटी इंटरनेशनल, ईस्टस्प्रिंग इन्वेस्टमेंट, कोलंबिया थ्रेडनिडल इन्वेस्टमेंट, पिकटेट, एचडीएफसी म्युचुअल फंड, आदित्य बिड़ला सन लाइफ म्युचुअल फंड, एसबीआई म्युचुअल फंड, यूटीआई म्युचुअल फंड, डीएसपी ब्लॉकरॉक म्युचुअल फंड, आईडीएफसी म्युचुअल फंड, आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ और बजाज एलाएंज शामिल हैं।

1542 करोड़ का है आईपीओ
आईपीओ के जरिए कंपनी 1542 करोड़ रुपए जुटाएगी। अनिल अंबानी ग्रुप कंपनी रिलायंस कैपिटल और जापान की निप्पॉन लाइफ की साझा कंपनी रिलायंस निप्पॉन एएमसी आईपीओ लाने वाली पहली एसेट मैनेजमेंट कंपनी है। इस आईपीओ में 2.45 करोड़ नए शेयर जारी किए जाएंगे, जबकि रिलायंस कैपिटल 1.12 करोड़ और निप्पॉन लाइफ 2.55 करोड़ शेयर बेचेंगी। सब्सक्रिप्शन के लिए आईपीओ 25 से 27 अक्टूबर तक खुला रहेगा।

जुटाई गई रकम का इस्तेमाल
रिलायंस निप्पॉन एएमसी ने आईपीओ से जुटाई रकम कंपनी के ग्रोथ में खर्च करने का इरादा जताया है। कंपनी का कहना है कि वो दूसरी एसेट मैनेजमेंट कंपनियों को खरीदने के मौके भी तलाश रही है।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani