जीएसटी आते ही परिवार के साथ बाहर खाना पड़ेगा महंगा

रायपुर। जीएसटी आने से आम लोगों को कुछ चीजों में राहत मिलेगी, लेकिन परिवार के साथ बाहर खान महंगा पड़ने वाला है। होटलों में खाने खाने पर प्रति टेबल 65 से 100 रुपए तक अतिरिक्त चार्ज लगेगा। वह भी उस स्थिति में जब आप केवल दाल, चावल, डिजर्ट व सब्जी लेते हैं।

दूसरी चीजें लेने पर आपको और अधिक बिल चुकाना होगा। दरअसल होटलों पर 18 फीसदी जीएसटी लगेगा। अभी 5 फीसदी वैट और 6 फीसदी सर्विस टैक्स लगता है। यानी एक जुलाई से जीएसटी लागू होते ही होटलों में खाना 7 फीसदी महंगा हो जाएगा।

होटल कारोबारियों का कहना है कि यह होटलों के लिए नुकसानदायक हो सकता है। होटल सेलीब्रेशन के संचालक कमलजीत सिंह होरा ने बताया कि नोटबंदी के वक्त से लोगों ने होटलों में खाना और पार्टियां मनाना कम कर दिया है। ऐसे में 7 फीसदी टैक्स बढ़ने से होटल में खाना महंगा पड़ेगा तो कारोबार गिर सकता है।

होटलों में ठहरना भी पड़ेगा भारी

जीएसटी के चलते होटलों के कमरों के दाम भी बढ़ने वाले हैं। इससे होटलों में ठहरना भी महंगा पड़ेगा। इसके अलावा होटल कारोबारी अन्य सुविधाओं के शुल्क बढ़ाने की भी तैयारी कर रहे हैं।

ऐसे समझें महंगाई का गणित

– अभी वेज पुलाव 170 से 350 रुपए प्लेट में मिलता है तो 1 जुलाई से 7 से 20 रुपए तक महंगा हो

जाएगा।

– पनीर मसाला, पालक पनीर, कड़ाही पनीर आदि 120 रुपए से 400 रुपए प्लेट है तो इनमें 7 से 28 रुपए प्लेट तक कीमत बढ़ेगी।

– दाल मखानी या सादी दाल अभी 100 से 300 रुपए में खा रहे हैं तो यह 7 से लेकर 21 रुपए तक महंगी हो जाएगी।

– खाने के साथ डिजर्ट, कोल्डड्रिंक, मीठा आदि लेते हैं तो ये भी महंगे पड़ेंगे।

– अगर आपका परिवार होटल में बैठकर केवल नाश्ता करता है तो भी महंगा पड़ेगा।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani