राहुल-प्रियंका का ‘खास’ हुआ गिरफ्तार, बब्‍बर खालसा से संबंध रखने का शक

सुलतानपुर। विधानसभा चुनाव लड़ चुके गांधी-नेहरू परिवार के करीबी और कांग्रेसी नेता संदीप तिवारी उर्फ पिंटू की पंजाब पुलिस द्वारा की गई गिरफ्तारी से सुलतानपुर के कांग्रेसी सकते में हैं। बब्बर खालसा संगठन को फंडिंग की आशंका पर दो दिन पहले पंजाब पुलिस और एटीएस ने सिख नेता हरजिन्दर सिंह कहलो और गुरुप्रीत सिंह को गिरप्तार किया था, इन्हीं के इशारे पर कांग्रेसी नेता संदीप तिवारी को भी गिरफ्तार कर पंजाब ले जाया गया है।

मूल रूप से सुलतानपुर जिले के कूड़ेभार थाना क्षेत्र के नंदापुर सराय गोकुल गांव के रहने वाले कांग्रेसी नेता संदीप तिवारी उर्फ पिंटू उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव थे। वह एनएसयूआई और यूथ कांग्रेस से भी जुड़े रहे। इन्हें कांग्रेस हाईकमान का बेहद नजदीकी माना जाता है। राहुल और प्रियंका जब-जब अमेठी दौरे पर आते थे तब पिंटू ही उनकी गाड़ी के सारथी होते थे।

साल 2012 में हासिल किया था विधानसभा का टिकट

उन्होंने साल 2012 विधानसभा का टिकट हासिल किया था और इस चुनाव में प्रियंका उनका चुनाव प्रचार करने आयी थी, हालांकि वह चुनाव नहीं जीत सके थे। संदीप ज्यादातर लखनऊ या दिल्ली में ही रहते थे, लेकिन जब-जब वह शहर में लालडिग्गी इलाके में स्थित अपने आवास पर आते थे तो कांग्रेसियों की खासी भीड़ लगी रहती थी।

कई मामले हैं दर्ज

साल 2012 के विधानसभा चुनाव के दौरान दाखिल किये गये शपथ पत्र के मुताबिक संदीप के ऊपर वर्ष 1993 में सुलतानपुर नगर कोतवाली में 353, 506 आईपीसी का मुकदमा दर्ज किया गया था, इसके अलावा 2003 में लखनऊ के कैंट थाने में हत्या के प्रयास का मामला दर्ज है। इसके अलावा इलाहाबाद में भी इनके उपर नेगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट के तहत दो मामले दर्ज थे।

हैरत में हैं कांग्रेसी

संदीप उर्फ पिंटू की गिरफ्तारी ने जिले के कांग्रेसियों को हैरत में डाल दिया है। कोई भी इतने बड़े मामले पर यकीन नही कर रहा। बहरहाल रस्यमय ढंग से हुई गिरफ्तारी का खुलासा पंजाब पुलिस करेगी, जिसका यहां के लोगों को इंतजार है।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani