आसान हुआ हवाई सफर, पैसेंजर को नहीं रखना होगा बोर्डिंग पास

विमान में चढ़ने से पहले हवाई यात्रियों का बोर्डिंग पास के एक भाग को फाड़ कर रखने की कोई जरूरत नहीं होगी. नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो बीसीएएस ने एयरलाइंस के लिए अनिवार्य इस दशकों पुरानी परंपरा को खत्म करने का निर्णय किया है.

विमानन सुरक्षा की निगरानी करने वाले बीसीएएस ने विमानन कंपनियों से कहा है कि अब उन्हें बोर्डिंग पास का एक हिस्सा अपने पास रखने की जरूरत नहीं होगी. अभी तक विमान मैं चढ़ने से पहले बोर्डिंग पास का एक हिस्सा विमान उड़ान सहायक अपने पास फाड़कर रख लेते हैं.

यह फैसला सरकार द्वारा एयरपोर्ट पर यात्रियों के प्रवेश और उनके विमान में चढ़ने की प्रक्रिया को आसान बनाने के प्रयासों के तहत किया गया है. नागर विमानन सचिव आर. एन. चौबे ने कहा कि बीसीएएस ने इस संबंध में बुधवार को विमानन कंपनियों को निर्देश जारी किया था.

इससे पहले हैंड बैगेज पर सिक्योरिटी टैग नहीं लगाने का हुआ था फैसला
देश के 7 महत्वपूर्ण एयरपोर्ट पर एक अप्रैल 2017 से हैंड बैगेज पर सिक्योरिटी टैग नहीं लगेंगे. यानि जो छोटा बैग लेकर आप विमान में चढते हैं, उन पर सिक्योरिटी स्टैम्पिंग नहीं होगी. हवाईअड्डों पर यात्रियों के लिए सिक्योरिटी प्रोसेस को आसान बनाने के लिए ऐसा किया गया है. यह सिस्टम देश के 7 एयरपोर्ट IGI एयरपोर्ट दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, अहमदाबाद, हैदराबाद, बंगलुरु, कोच्चि में एक अप्रैल से लागू होगा.

पिछले साल दिसंबर में सिक्योरिटी टैगिंग ना लगाने का फैसला ट्रायल के तौर पर शुरू किया गया था. तब ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन सिक्योरिटी ने कहा था एयरलाइन्स ऑपरेटर ये तय करें की जरूरी मॉनीटरिंग सिस्टम शुरू में ही कर लिया जाए. उसके बाद ट्रायल के तौर पर फीडबैक लिया गया और उसका एनालिसिस किया गया, जिसके नतीजे पॉजिटिव आए. उसके बाद BCAS की रिपोर्ट के बाद CISF ने अब ये तय किया है कि एक अप्रैल से 7 एयरपोर्ट पर stamping नहीं लगेगी.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani