पाकिस्तानी संसद ने डोनाल्ड ट्रंप के बयान के खिलाफ पारित किया निंदा प्रस्ताव

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की नेशनल एसेंबली ने सर्वसम्मति से एक प्रस्ताव पारित कर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के देश के खिलाफ शत्रुतापूर्ण और धमकी भरे बयानों की निंदा की और नये अफगान तथा दक्षिण एशिया नीति में भारत को तरजीह देने का विरोध किया.

संसद के निचले सदन में पारित प्रस्ताव में जनरल जॉन निकोलसन के हाल के बयान को भी खारिज कर दिया कि जिसमें उन्होंने अफगानिस्तान तालिबान के नेताओं के पाकिस्तान में कथित उपस्थिति की बात कही थी. निकोलसन अफगानिस्तान में अमेरिका के कमांडर हैं.

प्रस्ताव में कहा गया कि पाकिस्तान की नेशनल एसेंबली अफगानिस्तान और दक्षिण एशिया पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा अपने बयान में निशाना बनाए जाने को खारिज करता है. नेशनल एसेंबली अफगानिस्तान में नाटो के कमांडर जनरल निकोलसन के बयान को भी खारिज करता है कि क्वेटा और पेशावर में तालिबान शूरा मौजूद हैं.

बता दें कि ट्रंप ने अफगानिस्तान एवं दक्षिण एशिया नीति की घोषणा करने के लिए टीवी पर प्रसारित अपने पहले संबोधन में आतंकी गुटों के समर्थन के लिए पाकिस्तान की आलोचना की और पाकिस्तान सरकार को ऐसा जारी रहने पर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी थी.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani