पाक में चीनी प्रोजेक्ट ‘CPEC’ पर उठे गंभीर सवाल

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के एक समाचार पत्र ने चीन-पाकिस्तान इकॉनमिक कॉरिडोर (CPEC) से पाक को होने वाले फायदों के बारे में उठ रहे गंभीर सवालों के बीच परियोजना पर व्यापक चर्चा की अपील की।, “यह आश्चर्यजनक है कि मुठ्ठी भर लोगों के अलावा परियोजना के बारे में बाकियों को बेहद कम जानकारी है।”

“आम लोग व्यापक बहस के बिना, CPEC से होने वाले फायदों के बारे में नहीं जान पाएंगे, कम से कम उस रूप में तो नहीं जैसा हमें बताया जा रहा है।” डॉन ने ‘CPEC के सभी पहलुओं पर खुली बहस’ की सेना प्रमुख की मांग का स्वागत करते हुए सरकार पर परियोजना से जुड़ी हुए महत्वपूर्ण बातों का खुलासा नहीं करने का आरोप लगाया। इनमें वित्त, स्पेशल इकॉनमिक ज़ोन और चीनी कंपनियों को दी जाने वाली छूट से जुड़ी बातें शामिल है।

डॉन ने कहा, “परियोजना की गहराई और संभावना को देखते हुए खुली बहस जरूरी है ताकि यह विश्वास कायम किया जा सके कि इसे देश और उसके नागरिकों के सर्वश्रेष्ठ हितों को ध्यान में रखते हुए आगे बढ़ाया जा रहा है।

अभी तक यह विश्वास कायम नहीं हो पाया है। ” संपादकीय में परियोजना के लाभकारी प्रभाव की जानकारी दिए जाने की बात कही गई है और पूछा गया है कि क्या इससे असल में पाकिस्तानी लोगों के लिए रोजगार बढ़ेगा और इसमें से कितने रोज़गार चीनी लोग छीन लेंगे। पाकिस्तानी सरकार ने ‘CPEC के विरोधी को पाकिस्तान का विरोधी’ करार दिया है जबकि द डॉन ने अपने संपादकिय में इसे बचकाना बताया है।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani