आंध्र को विशेष राज्य के दर्जे की मांग पर YSR कांग्रेस के 5 सांसदों ने सौंपा इस्तीफा

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने के लिए टीडीपी के अलावा राज्य के अन्य दल भी लगातार सरकार पर दबाव बना रहे हैं। इसी कड़ी में शुक्रवार को वाईएसआर कांग्रेस के 5 सांसदों ने लोकसभा स्पीकर सुषमा स्वराज को अपना इस्तीफा सौंप दिया।

इसके साथ ही उन्होंने केंद्र की एनडीए सरकार पर आंध्रे प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने में विफल रहने का आरोप लगाया है। इस बीच वाइएसआर कांग्रेस पार्टी ने पीएम नरेंद्र मोदी और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू पर लोकतंत्र को अपमानित करने का आरोप लगाया है।

टीडीपी और YSR कांग्रेस दोनों कर रही प्रदर्शन

बता दें कि आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने की मांग को लेकर सत्ताधारी तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) और विपक्षी दल वाइएसआर कांग्रेस के बीच होड़ मची हुई है। दोनों ही पार्टियों ने संसद से लेकर सड़क तक अपनी मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। यहां तक की दोनों पार्टियां सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस भी ला चुकी हैं। लेकिन संसद का बजट सत्र का दूसरा हिस्सा विपक्ष के हंगामे की भेंट चढ़ गया और सत्र के आखिरी दिन भी कोई कामकाज नहीं हो सका। इसकी के साथ राज्यसभा और लोकसभा को अनिश्चिकाल के लिए स्थगित कर दिया गया।

YSR कांग्रेस के निशाने पर केंद्र और नायडू

गौरतलब है कि इससे पहले गुरुवार को वाइएसआर कांग्रेस के सांसदों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर नाराजगी जताते हुए कहा था कि केंद्र सरकार खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के लिए उन्होंने 12 बार नोटिस दिया, लेकिन इस मसले पर कोई चर्चा नहीं हुई। इस बीच पार्टी के सांसद मेकापति राजा मोहन रेड्डी ने आरोप लगाया कि वाइएसआर कांग्रेस द्वारा इस मुद्दे को उठाए जाने के बाद दबाव में मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की पार्टी ने आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा के मुद्दा को उठाया है।

इसलिए एनडीए का टीडीपी ने छोड़ा साथ

जाहिर है कि आंध्र को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की पार्टी ने एनडीए का दामन तक छोड़ दिया है। पिछले चार साल से टीडीपी केंद्र की एनडीए सरकार के साथ थी। लेकिन अपनी इस मांग को लेकर टीडीपी ने एनडीए से गठबंधन तोड़ दिया। वहीं केंद्रीय मंत्रिमंडल से टीडीपी के सांसदों ने इस्तीफा दे दिया तो वहीं नायडू के मंत्रिमंडल से भाजपा नेताओं ने भी अपना इस्तीफा दे दिया है। साथ ही इस मुद्दे को लेकर वाइएसआर कांग्रेस के साथ टीडीपी भी संसद में एनडीए सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लेकर आई।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani