सोशल मीडिया पर ट्रोल होने के बाद शिवराज फिर बोले..एमपी की सड़कें सबसे बेहतर

भोपाल। अमेरिका की अपनी यात्रा के दौरान प्रदेश की सड़कों को लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान सोशल मीडिया पर ट्रोल होने के बाद एक बार फिर बोले कि एमपी की सड़कें सबसे बेहतर हैं। जीहां उन्होंने ट्वीटर पर ट्वीट कर कहा कि हां एमपी की सड़कें बेहतर हैं तो बेहतर ही तो कहूंगा। आप भी जानें क्या है मामला और सीएम ने कैसे तोड़ी अपनी चुप्पी…

सीएम ने किया ये ट्वीट

सीएम ने ट्वीटर पर ट्वीट किया है कि ‘मैं मार्केटिंग करने आया। अमेरिका से अच्छी सड़के इंदौर एअरपोर्ट की हैं। अच्छी सड़के हैं तो क्या बोलू नहीं।’

आपको बता दें कि अमेरिका यात्रा के दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि ‘मैं वाशिंगटन एयरपोर्ट पर उतरा और जब सड़क पर चला तो मुझे लगा कि एमपी की सड़कें यहां से बेहतर हैं।’ इस बयान से सीएम को न केवल विपक्ष ने जुमलो की खुमारी उतारने की नसीहत दी बल्कि उन्हें हकीकत का चश्मा पहनने की सीख भी दे डाली। यही नहीं अपने इस बयान के कारण वे सोशल मीडिया पर ट्रोल होते रहे।

बीजेपी नेताओं ने यूं दी सफाई

सीएम को इस तरह ट्रोल होता देख बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं ने उनके बयान का समर्थन करने के लिए शिवराज सरकार से पहले के हालात बयां करना शुरू कर दिए। यही नहीं खुद गृहमंत्री ने भी विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए सीएम के बयान को गर्व से भरे होने का कहकर उनका समर्थन किया था।

जानें विपक्ष ने कैसे घेरा था सीएम को

एमपी की सड़कों को यूएस की सड़कों से बेहतर बताने वाले प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान के बयान पर सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि कोई शिवराज जी की आंखों की पट्टी उतारे। शिवराज जी आंखों की पट्टी खोलिये। सच का सामना कीजिए। यही नहीं नेता प्रतिपक्ष भी सीएम शिवराज सिंह के बेतुके बयानों पर तंज कसते नजर आए। आप भी जानें सीएम ने कब क्या कह दिया था, जिसपर कांग्रेस सांसद और नेताओं ने सीएम को घेर लिया है…

सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट कर कहा है कि कोई शिवराज जी की आंखों की पट्टी उतारे। शिवराज जी आंखों की पट्टी खोलिये। सच का सामना कीजिए।

उधर नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने भी ट्वीट कर कहा है कि दो दिन में शिवराज के दो झूठ। पहला एमपी में 50 हजार रुपए तक किसानों को होगा नगद भुगतान, दूसरा झूठ एमपी की सड़क अमेरिका से अच्छी हैं।

इधर अरुण यादव ने भी मामा का संबोधन देकर सीएम के एमपी की सड़कों को लेकर दिए गए बयान पर घेर लिया है। उन्होंने ट्वीट किया कि मामा सरकार सड़क पर उतरेगी तभी तो जान पाएगी कि एमपी की सड़क बेहतर है या वाशिंगटन की। यही नहीं उन्होंने अपने ट्वीट में ये भी कहा कि मामा चश्मा यहीं भूल गए क्या या जुमलो की खुमारी उतरी नहीं। विकास के बाद अब मामा भी पागल हो गया है।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani