उत्तर कोरिया ने कहा, मिसाइल प्रक्षेपण नए तरह के राकेट का परीक्षण था

सोल: उत्तर कोरिया के सरकारी मीडिया की खबर में दावा किया गया है कि देश का हालिया मिसाइल प्रक्षेपण नए तरह के रॉकेट का सफल परीक्षण था. केसीएनए न्यूज एजेंसी ने बताया कि कल का प्रक्षेपण ‘हाल ही में विकसित मध्यम-लंबी दूरी की मारक क्षमता वाले रणनीतिक बैलेस्टिक रॉकेट ह्वासोंग-12 का था. ’एजेंसी की खबर के अनुसार, उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने खुद इस नये तरह के रॉकेट मिसाइल प्रक्षेपण पर नजर रखी.

उल्लेखनीय है कि अपनी परमाणु महत्वाकांक्षा एवं मिसाइल कार्यक्रम के पीछे अलग-थलग पड़ चुके उत्तर कोरिया पर संयुक्त राष्ट्र ने कई प्रतिबंध लगाए हैं.उत्तर कोरिया का कहना है कि उसे आत्मरक्षा के लिए परमाणु हथियारों की जरूरत है. लेकिन समझा जाता है कि वह अमेरिका तक परमाणु आयुध ले जाने में सक्षम मिसाइल विकसित करना चाहता है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ‘ऐसा नहीं होने देने’ का संकल्प जाहिर किया है.

पिछले कुछ सप्ताहों के दौरान दोनों देशों के बीच तनाव चरम पर पहुंच गया है. वाशिंगटन का कहना है कि सैन्य कार्रवाई के विकल्प पर भी विचार किया जा रहा है. वहीं दूसरी ओर प्योंगयांग का रवैया भी धमकी भरा है जिससे संघर्ष की आशंका बढ़ गयी है.ट्रंप अपना रूख लचीला करते हुए बातचीत के दरवाजे खोलते प्रतीत हुए जब उन्होंने कहा कि वह किम से मिल कर ‘सम्मानित’ महसूस करेंगे. साथ ही उन्होंने किम को ‘स्मार्ट कुकी’ की उपमा भी दी.

पिछले सप्ताह दक्षिण कोरिया में मून जे इन नए राष्ट्रपति बने जिन्होंने प्योंगयांग के साथ सुलह सहमति की वकालत की और अपने शुरूआती संबोधन में कहा कि वह तनाव दूर करने के लिए ‘सही परिस्थितियों में’ उत्तर कोरिया जाना चाहते हैं. लेकिन उत्तर कोरिया के कल के राकेट परीक्षण ने एक बार फिर सबका रूख बदल दिया और सबने इस परीक्षण को उकसावे की कार्रवाई बताया है.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani