जानिए 16 फरवरी को हो रहे सूर्यग्रहण का आपकी राशि पर पड़ने वाला असर

लखनऊ
। 16 फरवरी को होने वर्ष का पहला सूर्यग्रहण भारत में नहीं दिखेगा लेकिन इसके प्रभाव सभी पर पड़ेगा। यहां बताते चलें कि इस साल तीन सूर्यग्रहण होने हैं। यह पहला है। कुछ दिन पहले ही 31 जनवरी को पड़े चंद्रग्रहण के बाद अब 15 फरवरी साल 2018 का पहला सूर्यग्रहण पडऩे जा रहा है। चंद्र ग्रहण करीब करीब पूरी दुनिया में देखा गया था। भारतीय समयानुसार यह सूर्य 15 फरवरी की रात 12 बजकर 25 मिनट पर शुरू होगा और सुबह चार बजे ग्रहण का मोक्ष होगा। 15 फरवरी को सूर्य ग्रहण दिखाई नहीं देगा पर इसका असर आपकी रायियों पर जरूर पड़ेगा।

2018 में तीन सूर्य ग्रहण

15 फरवरी को पडऩे वाला साल सूर्य ग्रहण 2018 का पहला सूर्य ग्रहण है। इसके बाद 13 जुलाई को सूर्यग्रहण पड़ेदा जो ऑस्ट्रेलिया में तो दिखाई देगा लेकिन भारत में नहीं। इसके बाद 11 अगस्त को भी सूर्यग्रहण लगेगा जो पूर्वी यूरोप, एशिया, नोर्थ अमेरिका और आर्कटिक में दिखाई देगा। इसके अलावा चंद्र ग्रहण 27/28 जुलाई को पड़ेगा। जो यूरोप, एशिया, ऑस्ट्रेलिया, अप्रीका, नोर्थ अमेरिका और अटलांटिक में दिखाई देगा।

बर्फीली हवाओं से लुढ़का पारा सुबह घने कोहरे के बाद खिली चटख धूप
यह भी पढ़ें
जानिए ग्रहण का राशियों पर असर

मेष- 16 फरवरी के बाद मेषराशि वालों को लाभ होने के संकेत मिल रहे हैं, मान सम्मान में वृद्धि होगी और रुके कामों में सफलता होगी।
वृष- इस राशि के लोगों को थोड़ी मानसिक तनाव और घर परिवार में दिक्कतें देखने को मिल सकती हैं।
मिथुन- इस राशि के लोगों को मेहत के अनुसार फल मिलेगा।
कर्क- आपके लिए धनहानि की आशंकाएं हैं इस समय आपको सावधानी बरतने की आवश्यकता है।
सिंह- व्यापार करने वाले लोग संभलकर चलें, वैवाहिक जीवन में परेशानियों देखने को मिल सकती हैं।
कन्या- आपके लिए आने वाला समय अच्छा होगा। सफलता मिलेगी और शत्रुओं पर विजय मिलेगी। तुला- मान सम्मान पाने के लिए ज्यादा परिश्रम करना पड़ेगा। मानसिक तनाव रहने की संभावना है।
वृश्चिक- आपके लिए भी आने वाला समय सफलता दिलाने वाला रहेगा। आपको नौकरी के नए अवसर और कार्य में लाभी होने के योग हैं।
धनु- इस राशिवालों में इच्छाशक्ति बढने की उम्मीद है। यात्रा में लाभ होने के योग हैं।
मकर – ग्रहण के असर से इस राशिवालों को मानसिक परेशानियां और खर्च बढऩे के आसार हैं।
कुंभ- मानसिक तनाव हो सकता है, वाहन चलाने में खास सवाधानी बरतें।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani