‘काली गैंग’ ने शिवराज को चेताया, शराबबंदी लागू करो नहीं तो…

भोपाल। मध्यप्रदेश में शराबबंदी लागू कराने का विरोध दिन ब दिन और तेज होता जा रहा है। सामाजिक हितों के लिए काम करने वाली ‘काली गैंग’ ने प्रदेश में जल्द से जल्द शराबबंदी करने की मांग की है। काली गैंग की मधु रायकवार ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री निवास एवं उसके आसपास के इलाकों में शराब की दुकानें नहीं खुलती। यह दुकानें आम जनता के घरों के सामने खोली जाती है।

मधु रायकवार का कहना है कि घर के सामने शराब की दुकानें खुलने से इसका बुरा प्रभाव बच्चों पर पड़ता है। देखते ही देखते छोटे बच्ची भी शराब के आदी हो जाते हैं। उनका आरोप है कि मध्यप्रदेश शासन के मुखिया आम जनता को कीड़े—मकोड़े की तरह समझते हैं। दिन भर में मजदूरी करके 300 रुपए कमाने वाला व्यक्ति 150 रुपए की शराब पी जाता है। इस कारण वह अपने परिवार का सही ढंग से पालन-पोषण नहीं कर पाता।

शासन ने इस बात पर चिंता करते हुए शराबी, बीवी व बच्चों को 5 रुपए खाना खिलाने का फैसला किया है, लेकिन शराबबंदी का फैसला सरकार द्वारा अभी तक नहीं लिया गया है। उन्होंने अपने संगठन की ओर से मध्यप्रदेश समेत पूरे देश में शराबबंदी किए जाने की मांग की है। उनका दावा है कि सरकार के इस निर्णय से अपराधों पर भी लगाम लगेगी।

काली गैंग के सदस्यों का कहना है कि यदि मध्यप्रदेश में जल्द ही शराबबंदी लागू नहीं की जाती है, तो काली गैंग को यदि डंडा लेकर सड़कों पर भी आना पड़े, तो हम तैयार हैं और इसके बाद भी शिवराज सरकार नहीं जागी तो सभी महिलाओं के द्वारा मुख्यमंत्री निवास का घेराव किया जाएगा।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani