नेपाल में वामपंथी गठबंधन को 72 सीटें, बहुमत की ओर

नेपाल में संसदीय चुनाव में वामपंथी गठबंधन जीत की ओर अग्रसर है। अब तक घोषित 89 सीटों के परिणाम में से 72 पर वामपंथी गठबंधन ने जीत दर्ज की है। पूर्व प्रधानमंत्री के.पी.ओली के नेतृत्व वाली नेकपा-एमाले 51 सीटों पर जीत दर्ज कर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। निर्वाचन अयोग से जारी परिणाम के अनुसार, नेकपा-एमाले ने 51 सीटों पर और उसकी सहयोगी पार्टी पूर्व प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहाल प्रचंड के नेतृत्व वाली नेकपा-माओवादी सेंटर ने 21 सीटों पर जीत दर्ज की है।

पिछले चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी नेपाली कांग्रेस को केवल 10 सीटें मिली हैं। दो मधेसी पार्टियों को पांच सीटें मिली हैं। उपेंद्र यादव के नेतृत्व वाली फेडरल सोशलिस्ट फोरम को दो सीटें मिली हैं, वहीं महंत ठाकुर के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनता पार्टी को तीन सीटें मिली हैं। पूर्व प्रधानमंत्री बाबूराम भट्टराई के नेतृत्व वाली नया शक्ति पार्टी को एक सीट मिली है। एक सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार को सफलता मिली है। बाकी बची 76 सीटों के लिए मतगणना जारी है। नेपाल में संसदीय और प्रांतीय विधानसभाओं के चुनाव के लिए दो चरणों में 26 नवंबर और सात दिसंबर को मतदान हुए थे। पहले चरण में 32 जिलों में चुनाव हुए थे, जिसमें से ज्यादातर पवर्तयीय इलाके शामिल थे। पहले चरण में 65 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। दूसरे चरण में 67 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। संसदीय सीटों के लिए हुए चुनाव में 1663 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani