जनवरी से सोने की जूलरी में अनिवार्य होगा हॉलमार्क टैग: पासवान

सांकेतिक तस्वीर
नई दिल्ली
सरकार अगले साल से सोने के आभूषणों की ब्रिकी के लिए हॉलमार्क प्रमाणन अनिवार्य करने वाली है। उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने यह जानकारी शुक्रवार को दी। पासवान ने कहा, ‘सभी सोने के उत्पादों पर जनवरी से हॉलमार्क प्रमाणन होना चाहिए। ज्यादातर भारतीय लोग सोने की शुद्धता को कैरट के हिसाब से समझते हैं, इसलिए सोने के आभूषणों पर 916 मार्क के साथ कैरट वैल्यू भी दर्ज होगी।’

उपभोक्ता मामलों के मंत्री ने ये बातें ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड्स द्वारा आयोजित कॉन्फ्रेंस ऑन वर्ल्ड स्टैंडर्ड्स डे के मौके पर कहीं। उन्होंने कहा कि देश में बिकने वाला सोना 14, 18 और 22 कैरट का होगा। पासवास के मुताबिक, अभी लोग जो सोने के आभूषण खरीदते हैं, उनकी गुणवत्ता नहीं जान पाते।

पासवान ने बताया कि कुछ जूलरी में हॉलमार्क प्रयोग किया जाता है, लेकिन इससे उपभोक्ताओं को साफ तौर पर जूलरी की गुणवत्ता पता नहीं चलती। इसके अलावा उपभोक्ता मामलों के मंत्री पासवान ने बताया कि प्रस्तावित नियमों के तहत

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani