पेट्रोल के बाद अब महंगी होगी CNG-PNG!

पेट्रोल-डीजल के बाद अब सीएनजी और पीएनजी की कीमतें बढ़ सकती है. तीन साल में पहली बार सरकार ने प्राकृतिक गैस का दाम 16.5 फीसदी बढ़ाकर 2.89 डॉलर प्रति दस लाख ब्रिटिश थर्मल यूनिट (एमएमबीटीयू) कर दिया है. एक्सपर्ट्स का मानना है कि इससे उत्पादकों को कुछ राहत मिलेगी, लेकिन सीएनजी और पीएनजी के दाम बढ़ने की आशंका है.

कब बढ़ेंगी कीमतें!
> माना जा रहा है कि अक्टूबर महीने की शुरुआत में ही कंपनियां सीएनजी के दाम बढ़ाने का ऐलान कर सकती है. हालांकि, अभी तक कंपनियों की ओर से कोई भी प्रतिक्रिया जारी नहीं हुई है.

इसलिए महंगी हो सकती है सीएनजी

> पेट्रोलियम मंत्रालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक एक अक्‍टूबर से छह महीने के लिए प्राकृतिक गैस के दाम 2.48 डॉलर प्रति इकाई से बढ़ाकर 2.89 डॉलर प्रति एमएमबीटीयू कर दिए गए हैं.

तीन साल में पहली बार बढ़ी कीमतें
> यह मूल्यवृद्धि सार्वजनिक क्षेत्र की तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) तथा रिलायंस इंडस्ट्रीज के मौजूदा क्षेत्रों से होने वाले गैस उत्पादन पर लागू होगी.
> लगातार पांच दौर की मूल्य कटौती के बाद प्राकृतिक गैस के दाम बढ़ाए गए हैं.
> आखिरी बार दामों में इस साल एक अप्रैल को कटौती की गई थी.

नए फॉर्मूले के तहत हर छह महीने में तय होती है कीमतें
> राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार द्वारा अक्‍टूबर, 2014 में मंजूर नए मूल्य फॉर्मूला के तहत गैस कीमतों को प्रत्येक छह महीने बाद संशोधित किया जाता है.
> प्राकृतिक गैस के दाम बढ़ने का मतलब है कि सीएनजी और पीएनजी के लिए कच्चे माल की लागत बढ़ेगी.
> इसके अलावा बिजली उत्पादन और उर्वरक तथा पेट्रो रसायन उत्पादन के लिए भी लागत बढ़ेगी

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani