फतवा : सेक्यूलर बनने के चक्कर में नीतीश का मुस्लिम मंत्री, इस्लाम से बेदखल

जैसी की संभावना थी वैसा ही हुआ.’जय श्री राम’ का नारा लगाने वाले जदयू के मंत्री खुरशीद उर्फ फिरोज अहमद पर इमारत शरिया के मुफ्ती ने फतवा जारी कर उन्हें इस्लाम से बेदखल करने का फैसला सुनाया है.फतवा के सौदागरों को एक मुस्लिम मंत्री का सेक्यूलर बन कर जय श्रीराम का नारा लगाना पसंद नहीँ आया.

सियासत के लिए ईमान को बेचा

मुफ्ती सुहैल अहमद कासमी ने कहा कि जो मुसलमान जय श्री राम का नारा लगाये और कहे कि मैं रहीम के साथ राम की भी पूजा करता हूं तो उसे इस्लाम से खारिज किया जाता है. इतना ही नहीं मुफ्ती ने कहा कि ऐसे शख्स का उसकी पत्नी से निकाह भी इस्लामी लिहाज से टूट गया है. उन्होंने कहा कि खुर्शीद अहमद पर तौबा और इस्तगफार लाजिमी तो हो ही गया है साथ ही उनको तौबा करने के बाद निकाह को फिर से जरूरी है.

खुर्शीद को शनिवार को ही नीतीश मंत्रिमंडल में मंत्री पद की शपथ दिलायी गयी है.

गौरतलब है कि शुक्रवार को जदयू के मंत्री खुर्शीद अहमद उर्फ फिरोज ने विधानसभा के बाहर कहा था कि अगर बिहार की दस करोड़ जनता को फायदा होता है तो वे वह सुबह-शाम में सैकड़ों बार जय श्री राम का नारा लगाने को तैयार हैं.

फतवे के बाद खुर्शीद ने माफी मांग ली है.उन्होंने कहा कि इस्लाम सभी धर्मों के साथ सम्मान से पेश आने को कहता है. इस्लाम नफरत नहीँ सिखाता.खुर्शीद ने कहा कि झूठ बोलने से फायदा होता है तो इसमें कुछ भी गलत नहीँ.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani