मोदी-जिनपिंग ने की खुलकर बात, कहा-मतभेदों को विवादों में नहीं बदलने देंगे: MEA

श्यामन। ब्रिक्स सम्मेलन से अलग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच आज द्विपक्षीय वार्ता हुई। दोनों नेताओं के बीच ये मुलाकात करीब 30 मिनट तक चली। विदेश मंत्रालय ने प्रैस कॉन्फ्रैंस कर दोनों देशों के नेताओं के बीच हुई इस मुलाकात की जानकारी दी। विदेश मंत्राल ने बताया कि मोदी-जिनपिंग ने बॉर्डर की सुरक्षा पर खुलकर बात की और सीमा पर सेनाओं के बीच संपर्क एवं सहयोग बढ़ाने पर भी कहा। मंत्रालय के मुताबिक दोनों देश सीमा पर शांति बरकरार रखने पर सहमत हुए। पीएम मोदी और शी जिनपिंग की बैठक के बाद विदेश सचिव एस. जयशंकर ने कहा कि दोनों नेताओं के बीच 1 घंटे से ज्यादा देर तक बातचीत हुई।

जयशंकर ने बताया कि दोनों नेताओं के बीच ब्रिक्स देशों से जुड़े कई मुद्दों पर सकारात्मक रवैये में बात हुई।दोनों नेताओं ने कहा कि दोनों देशों को आपसी भरोसा बढ़ाने की जरूरत है। जयशंकर ने कहा कि इस बैठक में आतंकवाद के मुद्दे पर बात नहीं हुई है, लेकिन ब्रिक्स की बैठक में इस पर बात हुई थी। दोनों देशों ने बॉर्डर पर शांति बनाए रखने बात कही है। चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि भारत और चीन दो बड़े पड़ोसी देश हैं, इसके साथ ही हम दोनों दुनिया की सबसे बड़े और उभरते हुए देश भी हैं। बता दें कि दोनों देश 73 दिनों के डोकलाम गतिरोध के पैदा हुई कड़वाहट को दूर करने का प्रयास कर रहे हैं।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani