चीन और पाक से एकसाथ जंग से इनकार नहीं

नई दिल्ली। सेना प्रमुख विपिन रावत ने कहा कि पाक और चीन से एक साथ दो मोर्चों पर जंग की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को आयोजित एक सेमिनार में जनरल रावत ने कहा, ‘जंग सच्चाई से बहुत दूर नहीं है। उन्होंने कहा, अब यह मानना मिथक है कि परमाणु हथियारों से लैस या लोकतांत्रिक पड़ोसियों में जंग नहीं होगी।’ रावत ने कहा, ‘पाकिस्तान का यह मानना है कि भारत उसका मुख्य दुश्मन है। वह भारत के खिलाफ छद्म युद्ध चला रखा है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के साथ मतभेद दूर होने वाले नहीं हैं।’

उन्होंने कहा कि, डोकलाम में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुए गतिरोध को चीन ने पूरी दबंगई दिखाने की कोशिश और ऐसा वह आगे भी भारतीय इलाकों में कोशिश कर सकता है। चीन भारत के कई नए इलाकों में बी ऐसा करने की कोशिश कर सकता है। वह हमारी सीमाओं और क्षमताओं की परीक्षा लेना चाहेगा हमे इसके लिए तैयार रहना चाहिए।

उन्होंने कहा कि अगर कभी भारत और चीन में जंग हुई तो पाकिस्तान इस मौके का फायदा उठाने की कोशिश कर सकता है। उन्होंने कहा, ‘हमें पूर्वी और पश्चिमी सेक्टर में टकराव के लिए तैयार रहना चाहिए।’ मान लेने से कि जंग नहीं होगा, हमारी सेनाओं के आधुनिकीकरण पर असर पड़ सकता है। इस तरह की सोच से बजट आवंटन प्रभावित हो सकता है। उन्होंने कहा कि जंग सिर्फ सेना नहीं लड़ती बल्कि देश लड़ा करते हैं, इसलिए हमें इस सोच के अनुरूप ही अपने को तैयार रखना पड़ेगा। उन्होंने ‘शोर मचाने वाली मीडिया’ की चर्चा करते हुए कहा कि इसका भी निर्णय क्षमता पर असर पड़ता है।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani