रमजान : घरों में बंद हो जाती है टीवी, करेंगे वॉट्सएप से तौबा

भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। आज के दौर में फेसबुक, वॉट्सएप, टीवी इंसान की अहम जरूरत बन चुके हैं। लेकिन इन पर जहां अच्छी बातों, विचारों की भरमार है, तो दूसरी तरफ अश्लीलता, छल-प्रपंच के पोस्ट भी बेहिसाब आते रहते हैं। ऐसी स्थिति में रमजान के पवित्र माह में इबादत करने वाले सोशल मीडिया से तौबा कर लेते हैं। विशेषकर रोजा (उपवास) के समय वह इनसे दूरी ही बनाकर रखते हैं।

रमजान के पवित्र माह की शुरुआत संभवतः26-27 मई से होगी। इस दौरान मुस्लिम धर्मावलंबी पूरे माह रोजा रखते हुए अल्लाह की इबादत करते हैं। उपवास के दौरान खाने-पीने का पूरी तरह परहेज रखा जाता है। यहां तक की थूंक तक गटकने की मनाही है। साथ ही रोजेदार को भौतिकतावादी चमक-धमक से भी दूर रहना पड़ता है,ताकि इबादत के दौरान उसकी एकाग्रता भंग न हो। खानूगांव में रहने वाले 35 वर्षीय मुस्तकीम ऑटो डील का कारोबार करते हैं।

मुस्तकीम बताते हैं,कि वह फेसबुक के अलाव वॉट्स एप का भी इस्तेमाल करते हैं। विशेषकर वाट्सएप तो उनके कारोबार की अहम जरूरत है। इसके माध्यम से ही अक्सर वाहनों की डील होती है। लेकिन रमजान में वह फेस बुक बंद रखेंगे। साथ ही वॉट्सएप से भी परहेज रखेंगे। करबला के पास रहने वाले 23 साल के आमिर खान एमबीए कर रहे हैं।

वह बताते हैं कि रमजान के दौरान उनके घर में टीवी बंद रहता है। सिर्फ जरूरी समाचार के लिए ही टीवी देखी जाती है। मनोरंजन चैनल पूरी तरह बंद रहते हैं। रमजान के दौरान वह सिर्फ वाट्सएप के ऐसे ग्रुप ही खोलते हैं, जिनमें धार्मिक संदेश या पारिवारिक संदेश होते हैं।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani