‘मैं शराब पी रहा था, दो लोग स्टेशन को बम से उड़ाने की बात कर रहे थे

भोपाल। मैं शराब पी रहा था, बाजू में दो लोग आपस में बात कर रहे थे कि भोपाल और हबीबगंज स्टेशन को बम से उड़ा देंगे। यह सुन मैंने पुलिस को सूचना दे दी। यह कहना है भोपाल और हबीबगंज स्टेशन को बम से उड़ाने की फर्जी सूचना देने वाले युवक का।

खुद का नाम लोकेंद्र सिंह राजपूत (पहले) व प्रदीप जाट (बाद में) बताने वाले युवक ने आरपीएफ के अधिकारियों से मोबाइल नंबर 9981277476 पर हुई चर्चा में यह कहा। संबंधित युवक ने शुक्रवार रात 11 बजे डायल-100 पर सूचना दी थी कि कुछ बदमाश स्टेशन को बम से उड़ाने वाले हैं।

इसके बाद आरपीएफ, जीआरपी और स्थानीय बल सक्रिय हुआ और रात 11.30 बजे से शनिवार तड़के 4 बजे तक रेलवे स्टेशन, प्लेटफार्म व ट्रेनों की सर्चिंग की गई। इससे आरपीएफ, जीआरपी समेत रेल यात्रियों को भी परेशान होना पड़ा।

भोपाल आरपीएफ थाना प्रभारी निहाल सिंह ने बताया कि सूचना देने वाले युवक से संपर्क किया तो उसने अपना नाम प्रदीप जाट निवासी हाउसिंग बोर्ड बताया। उसका कहना था कि वह शुक्रवार रात 10 बजे आनंद नगर के रत्नागिरी चौराहे के पास शराब पी रहा था, तभी पास में खड़े दो लोग आपस में स्टेशनों को बम से उड़ाने की बात कर रहे थे।

यह सुन डायल-100 को सूचना दे दी। जब थाना प्रभारी ने युवक से संबंधित लोगों की पहचान बताने को कहा तो उसने पहचानने से मना कर दिया। आरपीएफ को युवक की बात गले नहीं उतर रही है, क्योंकि जब उसने डायल-100 को पहली सूचना दी तब नाम लोकेंद्र सिंह राजपूत बताया था, जबकि विस्तृत पूछताछ में वह खुद को प्रदीप जाट बता रहा है।

अब संबंधित युवक के खिलाफ झूठी अफवाह फैलाने का केस दर्ज हो सकता है। आरपीएफ व जीआरपी इसकी तैयारी कर रही है।

8 मई को भी मिली थी विधानसभा, रेलवे स्टेशन को उड़ाने की धमकी

शुक्रवार रात की घटना के पहले 8 मई को भी सतना के युवक पंकज मिश्रा ने विधानसभा और भोपाल रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी दी थी। इसके बाद सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक तीन अलग-अलग टीमें बनाकर चेकिंग की गई। जब युवक की मोबाइल लोकेशन पता की तो वह सतना का रहने वाला निकला। पुलिस ने उसे गिरफ्तार भी किया था।

दो ट्रेनों को निशाना बना चुके हैं आतंकीः पूर्व में आतंकी भोपाल से होकर गुजरने वाली भोपाल-उज्जैन पैसेंजर और इंदौर-राजेंद्र नगर एक्सप्रेस को निशाना बना चुके हैं।

रात 11 से शनिवार शाम तक ऐसे चला घटनाक्रम

– रात को 11 बजे डायल-100 को सूचना मिली कि बदमाश भोपाल व हबीबगंज स्टेशन को बम से उड़ाने वाले हैं।

– 11ः30 बजे आरपीएफ-जीआरपी की अलग-अलग टीमों ने डॉग स्क्वायड के साथ दोनों स्टेशन पर सर्चिंग शुरू की।

– रात्रि 4 बजे तक दोनों स्टेशन परिसर, प्लेटफार्म, ट्रेनें, बगैज स्कैनर, मुख्य एंट्री गेट पर सघन जांच चली। सीसीटीवी कैमरों को देखा गया। कुछ नहीं मिला।

– सुबह फिर दोनों स्टेशन पर सर्चिंग शुरू हुई, जो शाम तक चली।

– इस बीच आरपीएफ, जीआरपी ने सूचना देने वाले युवक के मोबाइल नंबर पर कई बार संपर्क किया, वह सूचना से जुड़ी कोई भी जानकारी ठीक से और सहीं नहीं दे पाया।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani