BJP पर ‘कैश बम’ फोड़कर हार्दिक पटेल के साथी निखिल सवानी ने 15 दिन में छोड़ी पार्टी

भारतीय जनता पार्टी को गुजरात चुनाव से पहले एक और झटका लगा है. 15 दिन पहले ही बीजेपी में शामिल होने वाले पाटीदार नेता निखिल सवानी ने बीजेपी से इस्तीफा दे दिया है. सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस करते हुए निखिल सवानी ने कहा कि हार्दिक और मेरे बीच में मतभेद हो सकते हैं लेकिन मनभेद नहीं. मैंने पाटीदार समाज के हित में काम किया, पाटीदार समाज के हित के लिए ही बीजेपी के साथ जुड़ा था.

लेकिन अब मुझे दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि बीजेपी पाटीदार समाज के साथ वोटबैंक की राजनीति कर रही है, पाटीदारों को खरीदने की कोशिश कर रही है. मैं बीजेपी से इस्तीफा दे रहा हूं.

पाटीदार नेता निखिल सवानी ने कहा कि बीजेपी खरीद-फरोक्त कर रही है, पाटीदारों को खरीदने में जुटी है. खरीदने के लिए करोड़ों रुपए बांटे जा रहे है. सरकार ने जो चार मुद्दों पर निर्णय लिया था, उस आधार पर बीजेपी में शामिल हुआ था. लेकिन अब उन मुद्दों पर काम नहीं हो रहा है.

नरेंद्र पटेल एक छोटे परिवार से आते हैं, फिर भी उन्होंने 1 करोड़ रुपए ठुकरा कर समाज का साथ दिया, उसके लिए उन्हें बधाई. हार्दिक पटेल जो आंदोलन कर रहा है वो बिल्कुल सही है. उन्होंने कहा कि बीजेपी पाटीदार समाज को बेवकूफ बना रही है. जो भी पार्टी पाटीदारों का साथ देगी मैं उसी के साथ जाऊंगा.

अगर कांग्रेस में जाना होता तो मैं बीजेपी में नहीं जाता. बीजेपी से इस्तीफा देने के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने का समय मांगूगा. कोशिश करेंगे कि हार्दिक पटेल के साथ राहुल गांधी के साथ मिले. उन्होंने कहा कि मुझे बीजेपी में शामिल होने के लिए कोई पैसा नहीं मिला, अगर पैसा लेना होता तो मैं डेढ़ साल पहले ही BJP में शामिल हो जाता.

पहले नरेंद्र पटेल ने फोड़ा था कैशबम

बता दें कि नरेंद्र पटेल रविवार शाम 7 बजे ही बीजेपी में शामिल हुए थे और रात में 11 बजे उन्होंने मीडिया को बताया कि BJP ने उन्हें पार्टी में शामिल होने के लिए एक करोड़ रुपए का पेशकश की है. नरेंद्र पटेल के मुताबिक उन्हें 10 लाख रुपए एडवांस के तौर पर दिए गए और बाकी के 90 लाख रुपए सोमवार को मिलने वाले थे.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani