पाकिस्तान की इस तरह वापसी से काफी प्रभावित हैं विराट कोहली

बांग्लादेश को हराकर चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में अपनी टीम के पहुंचने से खुश भारतीय कप्तान विराट कोहली पाकिस्तान की शानदार वापसी से प्रभावित हैं। कोहली ने कहा कि उनकी वापसी शानदार रही। बेशक अगर आप फाइनल में जगह बनाते हो तो आपको कुछ अच्छा क्रिकेट खेलना होता है और उन्हें श्रेय जाता है। उन्होंने शानदार वापसी की।

भारत इससे पहले ग्रुप चरण में भी पाकिस्तान को हरा चुका है। दोनों चिर प्रतिद्वंद्वी टीमों के बीच टूर्नामेंट में होने वाले दूसरे मुकाबले के बारे में पूछने पर कोहली ने कहा कि हम उनके मजबूत और कमजोर पक्षों को ध्यान में रखते हुए सिर्फ उसी तरह के क्रिकेट को खेलने की कोशिश करेंगे जो हमने अब तक खेला है। बेशक हमें इसके अनुसार योजना बनानी होगी, लेकिन मुझे नहीं लगता कि एक टीम के रूप में हमें अधिक बदलाव करने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता कि एक समूह के रूप में हम जो कर रहे हैं हमें उससे कुछ अलग सोचने की जरूरत है। मुझे लगता है कि किसी निश्चित दिन अपने कौशल और क्षमता पर ध्यान देना और स्वयं पर विश्वास रखने से हम खुद को अच्छा मौका देंगे और टीम के रूप में कुछ अच्छा कर सकेंगे। कोहली से जब यह पूछा गया कि क्या बांग्लादेश के खिलाफ नौ विकेट की जीत के साथ भारत ने पाकिस्तान को अपना जलवा दिखा दिया है तो उन्होंने कहा कि ईमानदारी से कहूं तो इस मैच से ऐसा कुछ नहीं हुआ। मैच के दिन अगर आप मानसिक रूप से ठीक महसूस नहीं करते तो यह मायने नहीं रखता कि आप शत प्रतिशत तैयार हो या नहीं या आपने आसान जीत दर्ज की है या नहीं। ऐसे भी दिन होते हैं जब आप शून्य पर आउट हो जाते हैं और इसके बावजूद आप उस दिन अच्छा महसूस करते हैं, क्योंकि आपने वह मैच जीता है। इसी तरह यह खेल चलता है और यही इस खेल की खूबसूरती है।

पाकिस्तान के खिलाफ फाइनल के संदर्भ में भारतीय कप्तान ने कहा कि मैच से पहले कोई विजेता नहीं होता और इस खेल में आप कोई भविष्यवाणी नहीं कर सकते। हमने कुछ हैरान करने वाले नतीजे देखे हैं और दर्शकों के लिए इसे देखना और खिलाडिय़ों के लिए इसका हिस्सा होना शानदार है। हम सिर्फ फाइनल का लुत्फ उठाना चाहते हैं और हम इसमें जगह बनाने के हकदार हैं।

मैं अपनी बल्लेबाजी का लुत्फ ले रहा हूं
भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने बांग्लादेश के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में 96 रनों की पारी खेली और वह जिस तरह शॉट खेल रहे थे उससे उनकी फॉर्म का पता चल रहा था। जब उनसे उनकी बल्लेबाजी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैं जिस तरह बल्लेबाजी कर रहा हूं उसका आनंद ले रहा हूं। इस स्टेज में मैं कितने रन बना रहा हूं यह मायने नहीं रखता। मैं इस प्रक्रिया का आनंद ले रहा हूं। शिखर और रोहित ने जिस तरह बल्लेबाजी की उससे मुझे काफी विश्वास मिला। विशेष तौर पर शिखर ने जिस तरह बल्लेबाजी की वह अद्भुत थी। इन दोनों ने विपक्षी आक्रमण पर गहरी मानसिक चोट दी।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani