15 साल में चार पति और अब चौथे तीन तलाक की नौबत

तीन तलाक का दंश तीन बार झेल चुकी तारा की चौथी शादी भी टूटने की कगार पर है.

उत्तर प्रदेश के बरेली में एक महिला तीन तलाक के फेरे में ऐसी फंसी है कि उसकी जिन्दगी ही तबाह हो गई है. उसकी शादी जहां भी हो रही है उसे तीन तलाक का दंश ही झेलना पड़ रहा है. 15 साल में चार निकाह और तीन बार तलाक के बाद अब उसकी चौथी शादी भी टूटने के कगार पर है.

पिछले सात साल में 35 साल की तारा का उसके तीन शौहरों से तलाक हो चुका है. अब उसका चौथा शौहर भी उसे तीन तलाक देना चाहता है. फिलहाल मामला पुलिस परामर्श केंद्र में है जहां तारा की शादी को बचाने की कोशिश चल रही है.

तीन बार तीन तलाक की शिकार बनीं 35 बर्षीय तारा की मानें तो 15 साल पहले उसके घर वालो ने उसका निकाह जाहिद खां से किया था. शादी के बाद कुछ दिन तो सब कुछ ठीक ठाक चला. लेकिन जब बच्चे नहीं हुए तो उसके शौहर ने दूसरी लड़की से शादी कर ली और लगभग सात साल पहले उसको तलाक दे दिया,

तलाक के बाद तारा अपने मां- बाप के साथ रहने लगी. मां- बाप ने तारा की दूसरी शादी पप्पू से करा दी. तारा और पप्पू का निकाह के बाद कुछ दिन बाद ही उसके शौहर ने गैर मर्दों के साथ सोने का दबाव बनाया. जब जतारा ने विरोध किया तो शादी के तीन साल बाद उसने भी तीन तलाक दे कर छोड़ दिया.

बेचारी तारा एक बार फिर तीन तलाक का शिकार होने के बाद अपने मां बाप के पास आ गई , गरीब मां-बाप ने एक बार फिर अपनी बेटी का घर बसाना चाहा और तीसरा निकाह सोनू से कर दिया, सोनू और तारा के बिच एक महिला के आ जाने से तारा और उसके शौहर सोनू में झगड़ा होने लगा और बात मारपीट तक जा पहुंची. तारा ने कहा कि जब उसने विरोध किया तो निकाह के दो साल बाद उसे बुरी तरह प्रताड़ित कर तीन तलाक देकर घर से निकाल दिया,

तीसरी बार तीन तलाक से बेघर हुई तारा ने इस बार अपने मामा के घर पनाह ली. तीन बार तीन तलाक का शिकार बन चुकी तारा का चौथा निकाह आठ महीने पहले ही शमसाद से हुआ है. लेकिन अब यह भी निकाह तलाक की चौखट पर है.

तारा का कहना है कि शौहर औलाद चाहता है पर उसके कोई बच्चा नहीं हो रहा है. तारा ने कहा कि चौथा शौहर के भी एक महिला से नाजायज संबंध है. विरोध करने पर दोनों में झगड़ा शुर हो गया है. अब यह ममला फिर तीन तलाक तक पहुंच गया है.

चौथा शौहर शमसाद घर में झगड़ा होने की बात कह कर से रखना नहीं चाहता, लेकिन वह अब तीन तलाक नहीं चाहती. तारा ने अपने इस निकाह को बचाने के लिए पुलिस से मदद ली है. पुलिस पिछले दो महीनो से समझौता कराने के लिए परामर्श केंद्र भेज रही है. फिलहाल दोनों की काउंसलिंग की जा रही है. तीन तलाक से परेशान तारा अब एक और तलाक नहीं चाहती है.

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani