लोगों ने कहा कि मोदी जी ने किस नमूने को CM बना दिया- योगी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को बीजेपी की कार्यसमिति की बैठक में कहा कि देश और दुनिया में मेरे सीएम बनने की चर्चा हुई। लोगों ने आश्चर्य जताया कि मोदी जी ने किस नमूने को यूपी का सीएम बना दिया है। पूरे देश में हलचल है कि जिस पार्टी को साम्प्रदायिक बता अछूत बना दिया गया था आज वैश्विक नेतृत्व देने की क्षमता उसी में है। बैठक में योगी के साथ केशव मौर्य, दिनेश शर्मा और ओम माथुर भी मौजूद रहे।

योगी ने बैठक में कहा, ‘जब हमारी सरकार 100 दिन का हिसाब लेकर आएगी तो बहुत कुछ सार्थक पहल हो चुकी होगी। पहले सड़कों पर गड्ढे उत्तर प्रदेश की पहचान थे। हमने फैसला किया है कि 15 जून तक प्रदेश की सड़कों के सभी गड्ढे भर देंगे। नमामि गंगे सहित 60 से केंद्र की योजनाए ठीक से यूपी में लागू ही नही हुई। 4000 करोड़ के प्रोजेक्ट नमामि गंगे में हमने स्वीकृत करा लिए हैं।

अर्धकुम्भ में इस बार गंगा के शुद्ध जल का दर्शन होगा। हम भेदभाव नही करेंगे लेकिन पर्व है तो उस भाव का सम्मान करेंगे। पहले अयोध्या में राम नवमी के अवसर पर कोई सफाई नही होती थी।’

उन्होंने कहा, ‘हम नई आबकारी नीति भी लाएंगे। शराब की दुकान किसी भी नैशनल या स्टेट हाईवे, धार्मिक स्थल, स्कूल और बस्ती के 500 मीटर की परिधि में नहीं खुलने देंगे। यूपी में बिजली की वीआईपी संस्कृति थी। बिजली केवल चार जिले में ही होती थी जो सीएम का क्षेत्र था। हमने कहा यह नहीं चलेगा।

गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले मुफ्त बिजली कनेक्शन ले सकेंगे। इसके लिये कार्यकर्ता भी लोगों को जागरूक करेंगे।’ उन्होंने कहा कि पिछले 15 साल में जो सरकारें थी उनका आचरण शिक्षा विरोधी था। पाठ्यक्रम में व्यापक संभावना है। पहले पंचम तल ऑफ्टर लंच खुलता ही नहीं था। हम टीम भाव में कार्य कर रहे हैं। पंचम तल इतनी देर तक चलेगा किसी ने कल्पना नही की थी।’

सीएम योगी ने कहा, ‘इस साल हम अब तक 5500 करोड़ गन्ना मूल्य का भुगतान कर चुके हैं। हमने आलू का समर्थन मूल्य बढ़ाया है। चार चीनी मिलों का पुनरुद्धार करेंगे और एक नई चीनी मिल शुरू करेंगे। जो लोग यहां से उद्योग लगाने में भाग रहे थे अब वह यूपी में आना चाहते हैं। हमने कहा कि उद्योग नीति तो आने दो उन्होंने कहा कि आपकी सरकार में हमें विश्वास है कि पूरी सुरक्षा मिलेगी।

उन्होंने कहा, ‘अब जातिवाद और तुष्टिकरण की राजनीति नहीं होगी। जाति या परिवार विशेष को सभी योजना पर डाका नही डालने दिया जाएगा। हम आपकी भावना को आहत नही होने देंगे लेकिन विपक्ष की मानसिकता बदलनी होगी। कानून को हाथ में न लेने के लिये दूसरों को कह रहे हैं तो खुद भी हाथ में न लें। कोई दिक्कत है तो सरकार के कान में पहुंचा दें हम उसका समाधान कर देंगे। पद हमारे लिए प्रतिष्ठा नहीं बल्कि परीक्षा का विषय है।’

योगी ने दिल्ली की आप सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ‘हम लोगों की बात से दिल्ली सरकार को भी सद्बुद्धि आ गई है। यह एमसीडी चुनाव का भी असर हो सकता है। अब वह भी छुट्टी खत्म कर रहे हैं।’

उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य ने कहा, ‘सभी बीजेपी शासित राज्यों ने इस वर्ष को गरीब जनकल्याण वर्ष के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। योगीजी के नेतृत्व में हम जनकल्याण की ओर बढ़ रहे हैं। बीजेपी के कार्यकर्ताओं को किनारे लगा कुछ लोग आगे बढ़ने का प्रयास कर रहे हैं। कार्यकर्ताओं के सम्मान से किसी को खिलवाड़ नही करने दिया जायेगा। हमें अभी विपक्ष की आदत है। हमारे कार्यकर्ता भोले भाले है। विपक्षी इसका दुरुपयोग करने का प्रयास करेंगे। सतर्क रहना होगा। बीजेपी की पीठ में छुरा भोंकने वालों को बख्शा नही जायेगा।’

वहीं ओम माथुर ने कहा कि अब हम और आप जवाबदेही से बच नहीं सकते। दिल्ली और प्रदेश दोनों में अपनी सरकार है। हम अपना व्यवहार सत्तारूढ़ दल जैसा बनायें। जनता और सरकार के बीच सेतु बने। आने वाले दिन में निकाय और सहकारिता के चुनाव आने वाले है, इन्हें जीतना है। हमें अब विपक्ष की मानसिकता से निकलना होगा। सत्तारूढ़ दल के कार्यकर्ता का भाव पैदा करना होगा। सरकार की योजनाओं को नीचे तक पहुंचाने में योगदान देना होगा।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani