भारतीय सेना की पाक को दो टूक, इस हरकत का जवाब जरूरी मिलेगा

नई दिल्ली । भारतीय सेना के डीजीएमओ ने पाकिस्तान के डीजीएमओ से बात करके दो टूक शब्दों में कह दिया है कि इस तरह की हरकत का कड़ा जवाब जरूरी है। डीजीएमओ ने कहा है कि पाकिस्तानी सेना ने घात लगाकर हमला करने वालों को पूरी मदद की। डीजीएमओ ने कहा है कि एलओसी पर पाकिस्तान सेना की क्रूर विंग बैट के ट्रेनिंग कैंप का होना चिंता की बात है।

भारतीय डीजीएमओ ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष से कहा कि कृष्णा घाटी सेक्टर में पाकिस्तानी सेना के जवानों ने भारतीय सेना की टुकड़ी को निशाना बनाया है। पाकिस्तानी सेना के जवानों यह हमला तब किया जब भारतीय सेना के जवान लाइन ऑफ कंट्रोल पर भारतीय हिस्से में पेट्रोलिंग कर रहे थे। इस हमले में मारे गए भारतीय सेना के जवानों के शवों के साथ बर्बरता की गई।

भारतीय डीजीएमओ ने पाकिस्तान को साफ कर दिया कि इस दौरान पाकिस्तान की नजदीक की पोस्ट से भारतीय जवानों पर गोलीबारी की गई। भारतीय डीजीएमओ ने पाकिस्तान के डीजीएमओ के सामने इस बात पर भी आपत्ति जताई कि एलओसी के पास बैट ट्रेनिंग कैंप स्थापित किए गए हैं।

वहीं पाकिस्तानी आर्मी की बर्बरता के खिलाफ देशभर में आवाज उठ रही कि शहीदों की शहादत अब बर्बाद नहीं जाएगी। शहीद परमजीत और प्रेम सागर के शव को क्षत-विक्षत करने वाली पाकिस्तान आर्मी के खिलाफ पूरे देश में गुस्सा है। शहीदों के परिवार वाले सरकार से पाकिस्तान को कड़े जवाब की मांग कर रहे हैं।

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani