भाजपा के साथ जो लोग काम करना चाहते हैं उन्हें टीएमसी धमकी दे रही हैः दिलीप घोष

बर्धमान (पश्चिम बंगाल)। भाजपा ने आज तृणमूल कांग्रेस पर उसके कार्यकर्ताओं पर अत्याचार करने एवं हिंसा का सहारा लेने का आरोप लगाया, जिस वजह से पूरे पश्चिम बंगाल में अक्सर झड़पे हो रही हैं।

भाजपा की प्रदेश कार्यकारणी बैठक में दिलीप घोष में यहां कहा, ‘‘तृणमूल कांग्रेस भाजपा के खिलाफ हिंसा का सहारा ले रही है क्योंकि यहां पार्टी का विस्तार हो रहा है। टीएमसी, माकपा के कदमों पर चल रहीं जो सत्ता में रहने के दौरान अपने राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ हिंसा का इस्तेमाल किया करती थी।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी पिछले सप्ताह राज्य की अपनी तीन दिवसीय यात्रा के दौरान टीएमसी सरकार पर आरोप लगाया था कि वह लोगों पर इस तरीके से अत्याचार कर रही है जैसा ‘‘आजादी के बाद से कभी नहीं देखा गया।

घोष ने आरोप लगाया कि कूच बिहार जिले में टीएमसी दीनहटा, सिताई जैसे क्षेत्रों में भाजपा के कार्यकताओं को निशाना बना रही है, जहां फारवर्ड ब्लॉक के अधिकतर समर्थक भाजपा में शामिल हो गए हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘कूच बिहार यात्रा के दौरान मैंने देखा कि लोग भाजपा के साथ काम करना चाहते हैं लेकिन टीएमसी उन्हें धमका रही है।’’

घोष ने कहा, ‘‘राज्य में लोगों ने टीएमसी शासन के खिलाफ उदासीनता जाहिर की है और कांघी विधानसभा उप चुनाव के नतीजे भी इस ओर संकेत करते हैं। भाजपा यहां दूसरे नंबर पर रही थी हालांकि पार्टी संगठन यहां कमजोर था।

टीएमसी के महासचिव पार्थ चटर्जी ने घोष के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि झड़पें भाजपा के भड़काने की वजह से हो रही है।

उन्होेंने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राज्य का विकास करने का प्रयास कर रही है और भाजपा उसे रोक रही है। वह इसमें सफल नहीं होगी। ममता बनर्जी हमेशा लोगों के साथ हैं।’’

RO-11436/55

11359/79

11363/40

Recommended For You

About the Author: india vani